पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बिल्डिंग-ब्रिज विकास नहीं, इलाज, शिक्षा और रोजगार पर होगा काम, पैसों की कमी नहीं: मुख्यमंत्री बघेल

7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बिलासपुर में महापौर शपथ ग्रहण कार्यक्रम के दौरान शामिल होने पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बधेल ने बच्चों के साथ खेले कंचे।
  • कहा- पैसों की कमी नहीं आने देंगे, दलगत नीति से ऊपर उठकर राजधानी की तरह होगा बिलासपुर का भी विकास
  • पुलिस लाइन मैदान में हुआ नवनिर्वाचित मेयर रामशरण यादव और अध्यक्ष शेख नजीरुद्दीन का शपथ ग्रहण
Advertisement
Advertisement

बिलासपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि 15 साल पुरानी बिलासपुर के साथ जुड़ी खोदा पुर और गड्ढापुर की पहचान बदलेंगे। शासन ने नारा भी दिया है 'गढ़बो नवा छत्तीसगढ़'। उन्होंने कहा कि बिल्डिंग-ब्रिज के निर्माण से विकास नहीं, बल्कि इलाज, शिक्षा और रोजगार पर काम किया जाएगा। उन्होंने कहा कि दलगत नीति से ऊपर उठकर बिलासपुर का भी विकास राजधानी की तरह करेंगे। इसके लिए पैसों की कमी नहीं आएगी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शुक्रवार को बिलासपुर मेयर के शपथ ग्रहण समारोह में बोल रहे थे। 

1) जीत और छेरछेरा का जश्न एक साथ 

पुलिस मैदान में शुक्रवार को नवनिर्वाचित मेयर रामशरण यादव और अध्यक्ष शेख नजीरुद्दीन का शपथ ग्रहण समारोह हुआ। इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के एलान के मुताबिक अंचल के प्रमुख पर्व 'छेरछेरा' के जश्न की तैयारियां मंच के बाजू में की गई थी। छत्तीसगढ़ी परिधान में सजी धजी स्कूली बच्चियों ने नृत्य कर छेरछेरा मांगा और पिट्ठुल आदि खेल खेला। मुख्यमंत्री खुद उनके बीच पिट्ठुल खेलने पहुंच गए और मंच से नर्तक बच्चियों को छेरछेरा के उपहार स्वरूप धान भेंट किया। 

सोच : बड़ी बिल्डिंग, पुल पुलिया के निर्माण से विकास नहीं होगा। हमारी योजनाओं के केंद्र में यदि कोई है तो वह व्यक्ति है। हमारी सोच है कि व्यक्ति को भरपूर भरपेट भोजन मिलना चाहिए। उसके बेहतर स्वास्थ्य के लिए इलाज मिले, बच्चों की शिक्षा और रोजगार की व्यवस्था होना चाहिए। 
जिम्मेदारी : चुनाव में हमें बड़ी जिम्मेदारी मिली है। मेयर व निगम अध्यक्ष के भाषण का उल्लेख करते कहा कि कोई आदमी परेशान नहीं होना चाहिए। सभी का काम आसानी से हों। सफाई व पानी की चिंता न हो। बिलासपुर के विकास में धन की कमी नहीं होने दी जाएगी। वह नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया को साथ लेकर आए हैं। 
भावुकता : मुख्यमंत्री ने कहा कि बिलासपुर उनका प्रिय शहर है। निर्वाचित परिषद को विश्वास दिलाते हैं कि पैसे की कोई कमी नहीं होने देंगे। लोकसभा चुनाव लड़ना आसान है। पार्षद का चुनाव जीतना और पंच बनना तो बड़ा कठिन है। ग्रामीण क्षेत्र के जनप्रतिनिधि जीवंत संपर्क के बलबूते चुनकर आते हैं। 

चुनौती :  अरपा में बारहों महीने पानी का बहाव रखना एक बड़ी चुनौती है। नदी में पानी की धार बहती रहेगी तो अरपा और बिलासा मैया का खूब आशीर्वाद मिलेगा।

मेयर रामशरण यादव ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के प्रति आभार प्रकट करते कहा कि उनके जैसे गांव के किसान के बेटे को उन्होंने बिलासपुर नगर निगम का महापौर बनाया। नागरिकों के प्रति कृतज्ञता जताते नगर निगम के अधिकारी और कर्मचारियों से कहा कि जनता के काम में देरी नहीं होनी चाहिए। काम समय सीमा पर हों। काम में देरी होने पर वह कर्मचारियों को कोई सहयोग नहीं कर पाएंगे। 

नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया ने कहा कि निकायों को पानी, बिजली, सड़क की व्यवस्था सुचारू करने, आम लोगों के जीवन स्तर ऊंचा उठाने, रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने की भी चिंता है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में सकारात्मक सोच के साथ समावेशी विकास का इरादा है। उन्होंने तंज कसते कहा कि पिछली सरकार के अधिकारियों ने जनप्रतिनिधियों के निर्णय के अधिकार को छीन लिया था। आशा व्यक्त की कि बिलासपुर नगर निगम छत्तीसगढ़ में इतिहास रचेगा। रायपुर की तरह बिलासपुर का भी नाम होगा। 

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement