बिलासपुर में जनता कर्फ्यू / सड़कों पर सिर्फ मवेशी नजर आए, लोगों ने दिखाई जागरुकता, नहीं निकले घरों से बाहर

कमिश्नर बंग्ला इलाके में सड़कों पर आवारा मवेशी ही दिखे। कमिश्नर बंग्ला इलाके में सड़कों पर आवारा मवेशी ही दिखे।
शहर में लोगों पर कोई दबाव नहीं है फिर भी कोई घरों से नहीं निकल रहा। शहर में लोगों पर कोई दबाव नहीं है फिर भी कोई घरों से नहीं निकल रहा।
बिलासपुर रेलवे स्टेशन पर लोगों के शरीर का तापमान जांचा गया। बिलासपुर रेलवे स्टेशन पर लोगों के शरीर का तापमान जांचा गया।
X
कमिश्नर बंग्ला इलाके में सड़कों पर आवारा मवेशी ही दिखे।कमिश्नर बंग्ला इलाके में सड़कों पर आवारा मवेशी ही दिखे।
शहर में लोगों पर कोई दबाव नहीं है फिर भी कोई घरों से नहीं निकल रहा।शहर में लोगों पर कोई दबाव नहीं है फिर भी कोई घरों से नहीं निकल रहा।
बिलासपुर रेलवे स्टेशन पर लोगों के शरीर का तापमान जांचा गया।बिलासपुर रेलवे स्टेशन पर लोगों के शरीर का तापमान जांचा गया।

  • रेलवे स्टेशन में भी सन्नाटा, यहां आने वाले लोगों के शरीर के तापमान की हुई जांच 
  • जिला प्रशासन ने एक दिन पहले बंद करवाई थी दुकानें, आज दिन भर शहरवासियों को घर पर रहने की सलाह 
  • पेट्रोलपंप, दवा की दुकानें रहेंगी खुली, कोरोनावायरस महामारी के बीच पहले ही लागू की जा चुकी है धारा 144 

दैनिक भास्कर

Mar 22, 2020, 08:13 PM IST

बिलासपुर. शहर में सुबह से ही सन्नाटा पसरा हुआ है। दोहपर में ही हालात ऐसे ही नजर आए। सड़कों पर मवेशी ही दिखे। आम आदमी ने कोरोना के खिलाफ जारी इस जंग में अहम भूमिका निभाई। शहर के कमिश्नर बंगला इलाके में दोपहर के वक्त सड़कों पर सिर्फ मवेशी ही दिखे। लाउड स्पीकर पर लोगों को कोरोना के खिलाफ जागरुक किया गया। शहर के सिंधी कॉलोनी, तारबाहर चौक, रेलवे कॉलोनी, लिंक रोड, अग्रसेन चौक, पुराना बस स्टैंड, तोरवा बस्ती, गुरुनानक चौक एवं बुधवारी बाजार में चारों तरफ सन्नाटा पसरा हुआ है। वहीं बिलासपुर रेलवे स्टेशन में बाहर से आने वाली ट्रेनों में आने वाले यात्रियों की जांच की गई।  जिला अस्पताल को भी अलर्ट मोड पर रखा गया है। जिले में अब तक कोरोनावायरस से संक्रमित व्यक्ति नहीं मिला है। एहतियातन देशभर के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आव्हन पर बिलासपुर भी जनता कर्फ्यू में भागीदारी निभा रहा है।

मास्क नहीं तो पेट्रोल नहीं 

चेहरा ढंककर लोगों ने पेट्रोल लिया, कर्मचारियों ने हैंड सैनेटाइजर से हाथ भी साफ करवाए।

शहर के पुलिस लाइन के पेट्रोल पंप पर लोगों में कोरोना वायरस के प्रति जागरुकता लाने अभियान चलाया जा रहा है। यहां पेट्रोल पंप पर उसे ही पेट्रोल दिया जा रहा है जो मास्क लगाकर या कपड़े से मुंह ढंककर आया हो। शहर की कुछ दुकानों पर तो अब मास्क मिल रहे हैं। बीते 5 दिनों में मास्क और सैनेटाइजर मिलने की स्थिति में बेहद मामुली सुधार आया है। हालांकि अभी जिन प्रमुख मेडिकल स्टोर में मास्क और सैनेटाइजर आ रहे हैं वह झट से बिक भी रहे हैं। 


कर्फ्यू का समर्थन, बीती शाम भीड़ से भरे रहे बाजार 
लोगों के बीच जनता कर्फ्यू को समर्थन देने की चर्चा है। सुबह से सूनसान पड़ी शहर की सड़कें बता रही हैं, कि लोग कोरोना को हराने की इस जंग में शासन और प्रशासन का साथ दे रहे हैं। बीते शनिवार को शहर के गोल बाजार, सदरबाजार, राजीव प्लाजा के हिस्सों में आम दिनों के मुताबले भीड़ कुछ खास कम नजर नहीं आई। लोग खाने-पीने की चीजें खरीदते दिखे । जनता के बीच भ्रम की स्थिति है कि सोमवार से बाजार का क्या हाल होगा हालांकि प्रशासन ने कहा है कि जरुरी चीजों की दुकानों को बंद नहीं कराया जाएगा। 


शहर में 144 
कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी डॉ.संजय अलंग ने कोरोनावायरस न फैले इसे देखते हुए जिले में धारा 144 लागू कर दी है। 31 मार्च तक के लिए इसे लागू किया गया है। इस धारा के मुताबिक अब लोग जिले में 5 या 5 से ज्यादा की संख्या में जमा नहीं हो सकेंगे। किसी भी तरह की सभा, जुलूस, धरना, रैली, धार्मिक, सांस्कृतिक वगैरह को प्रतिबंधित कर दिया गया है। साथ ही कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को अपने आप ही सामने आकर इलाज कराना अनिवार्य किया गया है। कोरोना वायरस से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी या शिकायत के लिए राज्य शासन के हेल्पलाईन नंबर 104 पर संपर्क किया जा सकता है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना