अमृत मिशन  / नल कनेक्शन के साथ मीटर लगेंगे, होली के बाद गणेश नगर से शुरू होगा काम

X

  • योजना के तहत पाइप लाइन बिछाने का काम हुआ पूरा, आगे जहां पाइप लाइन बिछेगी साथ में लगेंगे मीटर
  • मोबाइल पर मिलेगा बिल, 20 प्रतिशत पानी बचेगा, अगले साल से शुरू होगी 24 घंटे पानी की सप्लाई 

Mar 14, 2019, 10:08 AM IST

बिलासपुर.  शहर के नल कनेक्शनधारियों के लिए अच्छी खबर है। उनके कनेक्शन पाइप बदले जाएंगे। हर कनेक्शन के साथ एएमआर मीटर लगाए जाएंगे। रीडिंग आटोमैटिक होगी। यह काम गणेश नगर, चुचुहियापारा से शुरू होगा। यहां अमृत मिशन योजना के अंतर्गत पाइप लाइन बिछाने का काम पूरा हो चुका है। इसके बाद जहां पाइप लाइन बिछाने का काम हो चुका होगा, वहां नए कनेक्शन के साथ मीटर लगाए जाएंगे। जो शहर में संभवत: 2020 से शहर में 24 घंटे पानी सप्लाई की योजना के नाम से शुरू होगा। 

निगम 301 करोड़ की लागत से खूंटाघाट से सतही जय प्रदाय योजना पर कर रहा है काम

स्पष्ट है कि यदि पूरे समय पानी सप्लाई मिलेगी तो लोग ड्रम, टंकियों या बर्तनों में पानी भर कर नहीं रखेंगे और सुबह ताजा पानी आने पर उसे व्यर्थ में नहीं बहाएंगे। मीटरिंग के चलते व्यक्ति जरूरत के मुताबिक ही पानी का इस्तेमाल करेगा। अमृत मिशन योजना के अंतर्गत नगर निगम 301 करोड़ की लागत से खूंटाघाट से सतही जल प्रदाय योजना पर काम कर रहा है। योजना की डेड लाइन सितंबर 2019 है, परंतु लगता है कि इसमें देरी हो सकती है। 

अमृत मिशन योजना के सर्वे के मुताबिक मीटरिंग प्रणाली लागू होते ही सप्लाई होने वाले 43 फीसदी यानी 23.54 एमएलडी पानी जिसका नगर निगम को राजस्व प्राप्त नहीं होता, बिलिंग की जा सकेगी। इसी प्रकार कुल सप्लाई के 38.12 फीसदी यानी 20.52 एमएलडी पानी जो व्यर्थ में बह जाता है, उसे बचाया जा सकेगा। 

नए कनेक्शन के साथ घरों में एएमआर मीटर लगेगा। मुंबई की इट्राल कंपनी को इसका ठेका दिया गया है। इसकी लागत 5300 रुपए प्रत्येक होगी। वाटर मीटर साधारण होगा, परंतु स्मार्ट सिटी योजना के अंतर्गत भविष्य में इसमें चिप लगा दिया जाएगा। इसके बाद कनेक्शनधारक के मोबाइल पर वाटर मीटर की बिलिंग शुरू हो जाएगी। 

अमृत मिशन के अंतर्गत सभी सार्वजनिक और अवैध नल कनेक्शन बंद कर दिए जाएंगे। निगम के नल जल विभाग के एई अजय श्रीवासन के मुताबिक दो साल पहले तक अवैध नल कनेक्शन की संख्या 3300 के करीब थी। सार्वजनिक नल 1000 से अधिक हैं। शहर में 29756 वैध नल कनेक्शन हैं। इंजीनियर रितेश दास ने बताया कि शहर में 56 हजार के करीब मकान हैं। सभी जगह नए नल कनेक्शन के साथ मीटर लगाए जाएंगे। इसके साथ ही साथ पानी सप्लाई के लिए निर्धारित 22 पानी टंकियों और बिरकोना स्थित वाटर ट्रीटमेंट प्लांट और मेजर बैलेंसिंग रिजर्ववायर आदि में 52 मीटर लगेंगे। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना