हत्या / पार्टी मनाकर लौट रहे तेंदूपत्ता व्यापारी के बेटे की हत्या, सीने व पीठ पर 5 वार, गायब साथी पर संदेह

Dainik Bhaskar

Mar 16, 2019, 11:50 AM IST


bilaspur news businessman son murdered while returning home friend missing and suspect
X
bilaspur news businessman son murdered while returning home friend missing and suspect
  • comment

  • रिंग रोड नंबर दो पर रात 3 बजे हुई घटना, दोस्त के साथ लौट रहे युवक की लाश मिली 
     

बिलासपुर.रिंग रोड नंबर दो में देर रात शहर के तेंदूपत्ता व्यापारी के बेटे की धारदार हथियार मारकर हत्या कर दी गई। घटना के समय वह पार्टी कर लौट रहा था। उसकी कार में जो एक और साथी था वह फरार है। पुलिस को उसी पर ही संदेह है। उसकी तलाश चल रही है।

 
मिनोचा कालोनी निवासी गिरिजा केशरवानी तेंदूपत्ता व्यवसायी हैं। उनका 25 वर्षीय बेटा शुभम केशरवानी इस काम में उन्हें सहयोग करता था। गुरुवार की रात 10 बजे शुभम अपने 6 दोस्तों के साथ पार्टी मनाने शहर के एक होटल में गया था। यहां सभी ने एक साथ खाना खाया। रात 11.30 बजे सभी एक साथी को छाेड़ने इमलीपारा गए। यहां काफी देर तक ठहरे फिर रात 2 बजे अपने अपने घर जाने के लिए निकल गए। शुभम के साथ कार में कुदुदंड निवासी अक्षत श्रीवासन मौजूद था। दोनों ही घर नहीं पहुंचे। तड़के शुभम की लाश रोड नंबर दो के करीब पन्ना नगर नगर जाने वाले गली में मिली। कार सड़क पर खड़ी थी। शुभम पर धारदार हथियार से वार किए गए थे। किसी ने उसकी हत्या कर दी थी। 


सुबह सैर पर निकले लोगों ने देखा
सुबह सैर पर निकले लोगों ने देखा तो पुलिस को सूचना दी। सिविल लाइन पुलिस कार के कागजात के आधार पर उसकी पहचान की और परिजनों को बुलाया। घटनास्थल के करीब के मकान में लगे सीसीटीवी फुटेज में कार रात 2.47 बजे रुकते व दाे लोग इससे बाहर निकलते नजर आ रहे हैं। एक वहां से तेजी से पैदल भागते दिख रहा है। पुलिस का कहना है कि इनमें से एक शुभम व दूसरा उसका साथी अक्षत श्रीवासन है। अक्षत गायब है। पुलिस तलाश में उसके घर गई पर नहीं मिला। उसका मोबाइल भी रात 3 बजे से बंद है। पुलिस पता लगा रही है। 


इस कारण हुई मौत 
शव का पोस्टमार्टम करने वाले जिला अस्पताल के डाॅक्टर राजकुमार मिश्रा के अनुसार शुभम के पीठ पर 3 व सीने पर 2 वार किए गए थे। सभी में एक ही धारदार हथियार का उपयोग हुआ है। उन्होंने कहा कि चोट के आधार पर हमला किसी तेज गुप्ती से किया गया है।

 
गाड़ी में ही हमले की कोशिश 
सीन आफ क्राइम से लगता है कि शुभम जान बचाने के लिए भागा था। उसे दौड़ाकर मारा गया है। वह इस बीच गिरा भी है। उसके घुटने पर चोट के निशान थे। सीने व पीठ पर हुए वार को देखकर ऐसा लगता है कि पहले सामने से वार हुआ था फिर भागते समय उसके पीछे पर तीन वार और किए गए होंगे।

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन