छत्तीसगढ़  / जमीन के सौदे में फंसा डॉक्टर पत्नी और पुलिस के नाम सात चिट्‌ठी छोड़कर अचानक गायब



bilaspur news Doctor stuck in land deal suddenly disappeared, leaving 7 letters in the name of wife and police
X
bilaspur news Doctor stuck in land deal suddenly disappeared, leaving 7 letters in the name of wife and police

  • कई पर लगाए आरोप, देर रात तक तलाशती रही सिविल लाइंस थाना पुलिस और घरवाले 
  • घर से अस्पताल के लिए निकले, फिर लौटे नहीं, दोस्त के घर छोड़े बैग से मिले सुसाइड नोट

Dainik Bhaskar

Aug 08, 2019, 01:27 PM IST

बिलासपुर.  शहर से एक डॉक्टर के गायब होने का मामला सामने आया है। परिजन व पुलिस उनकी तलाश कर रहे हैं। उनकी बैग से 7 चिट्ठियां मिली है। इसमें एक दंपति, प्रॉपर्टी डीलर व राजस्व अधिकारी का नाम है। इनपर जमीन हड़पने व मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप है। पीएम, सीएम गृहमंत्री, राजस्व मंत्री व डीजीपी, कलेक्टर,आईजी,एसपी सुप्रीम कोर्ट व हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस सहित पुलिस व प्रशासन के अफसरों से न्याय की गुहार लगाई है। गायब होने पर पत्नी ने सिविल लाइन थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई है। 

दोस्त को कहा- कोर्ट के काम से जा रहा हूं, बैग यहीं रखा है

  1. मूलतः पेंड्रा निवासी डॉक्टर प्रकाश सुल्तानिया (एमडी मेडिसिन) शुभम् विहार कॉलोनी में रहकर मगरपारा रोड के एक हॉस्पिटल में प्रैक्टिस करते हैं। बुधवार सुबह रोज की तरह घर से हॉस्पिटल के लिए निकले। इसके बाद उनका पता नहीं चल पाया। सुबह 11 बजे उनके मोबाइल का आखिरी लोकेशन मसानगंज में मिला। उनकी बाइक मिशन अस्पताल रोड स्थित मार्क हॉस्पिटल के पास खड़ी मिली। 

  2. उन्होंने मंगला में अपने दोस्त के यहां बैग छोड़ा था। इसमें अंग्रेजी में टाइप किया हुआ सुसाइड नोट मिला। यह अलग अलग 7 लिफाफों में बंद था। उन्होंने पत्नी के नाम से भी चिट्‌ठी छोड़ी है। उसके गायब होने के बाद घरवालों ने खोजबीन शुरू की। पता नहीं चला तो पुलिस के पास गए। पत्नी के गुमशुदगी दर्ज कराने के बाद पुलिस ने खोजबीन शुरू की। देर रात तक उनका पता नहीं चला था। चिट्‌ठी को पुलिस ने जब्त कर लिया है। 

    नोटिस मिला था, पेशी में नहीं गए : डॉक्टर की बुधवार को तहसील आफिस में पेशी थी। उन्हें उपस्थित होने के लिए नोटिस मिला था पर वे यहां नहीं गए। नोटिस भी उनके बैग में था। 

  3. एसपी को लिखा पत्र- निर्माण कार्य कराना शुरू किया, तो दे रहे थे मानसिक प्रताड़ना

    डॉक्टर प्रकाश ने एसपी को संबोधित पत्र में लिखा है कि उसने खमतराई मोड़ पर चांटीडीह सीपत मुख्य मार्ग पर सितंबर 2017 में 3669 वर्ग फीट जमीन राजेश अग्रवाल और संगीता अग्रवाल से खरीदी थी। जब इसमें निर्माण कार्य शुरू कराया तो जमीन दलाल प्रमोद यादव, बर्खास्त आरआई मथुरा कश्यप ने मिलकर कई तरह से परेशान करना शुरू कर दिया।

  4. उनके साथ कई अन्य पावरफुल लोग भी शामिल थे। इससे काफी परेशान हूं। मैंने अपनी नौकरी खो दी तथा मानसिक रूप से बहुत तनाव में हूं। मेरे मन में आत्महत्या करने का विचार आ रहा है। यदि ऐसा होता है तो प्रमोद यादव, मथुरा कश्यप, सदानंद पटेल, राजेश अग्रवाल और संगीता अग्रवाल को इसके लिए जिम्मेदार माना जाए। 

  5. पत्नी को चिट्‌ठी, लिखा- पॉवरफुल लोग हड़प रहे हैं जमीन 

    पत्नी पायल को संबोधित पत्र में डॉक्टर ने लिखा है कि, मुझे माफ कर दो। जब तुम यह चिट्‌ठी पढ़ रही होगी तो मैं नहीं रहूंगा। तुम्हे पता है कि हमने अपना सबकुछ इस जमीन की खरीदने में लगा दिया है एवं साथ में लोन भी लिया है। अब इसे पावरफुल लोग हड़पना चाहते हैं। मैं सभी लोगों से मिला। प्रशासन व राजनैतिज्ञों के पास गया पर किसी ने मेरी मदद नहीं की। जिस तरह से राजस्व विभाग वाले एक पक्षीय कार्रवाई कर रहे हैं उससे मुझे नहीं लगती कि कुछ वापस मिलेगा। लोग चाहते हैं हमारी जमीन चली जाए। तुम तो देख ही रहो कि मैं कितन कष्ट में हूं। 

  6. डॉक्टर सुबह 11 बजे से गायब है। उनकी पत्नी ने सिविल लाइन थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई है। पुलिस व परिजन उसकी खोजबी में जुटे हुए हैं। अभी तक पता नहीं चल पाया है। उनकी बाइक से एक चिट्‌ठी मिली है। 

    प्रशांत अग्रवाल, एसपी

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना