बिलासपुर  / अब हर ब्लैक स्पाॅट पर मिलेंगे यमराज, वाहन चालकों को पढ़ाएंगे ट्रैफिक नियमों का पाठ, जिससे टले हादसा

सिंबोलिक फोटो सिंबोलिक फोटो
X
सिंबोलिक फोटोसिंबोलिक फोटो

  • चित्रगुप्त के साथ सड़क हादसे से बचने के बताएंगे उपाय, ट्रैफिक पुलिस का हादसा रोकने शुरू होगा अभियान
  • डीजीपी की मीटिंग के बाद हरकत में आए अधिकारी, शहर के ब्लैक स्पॉट पर की जाएंगी नुक्कड़ सभाएं

दैनिक भास्कर

Mar 06, 2020, 10:47 AM IST

बिलासपुर. छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में सड़क हादसों को रोकने के लिए अब यमराज का सहारा लिया जाएगा। वह सभी चिन्हित ब्लैक स्पाॅटों में जाकर वाहन चालकों को ट्रैफिक नियमों का पाठ पढ़ाएंगे। दो दिन पहले डीजी डीएम अवस्थी ने प्रदेश के सभी ट्रैफिक पुलिस अधिकारियों की रायपुर में मीटिंग बुलाई थी और लगातार हो रहे सड़क हादसों पर चिंता जाहिर की थी। उन्होंने दुर्घटनाएं रोकने सख्त निर्देश दिए हैं। खासकर सभी ट्रैफिक के अधिकारियों से कहा है कि अब किसी भी हादसे के लिए उन्हें ही जिम्मेदार माना जाएगा। 

एएसपी ट्रैफिक रोहित बघेल ने बताया कि आने वाले दिनों में हादसा रोकने शहर के प्रमुख लोगों की राय ली जाएगी। ट्रैफिक पुलिस अब सभी 14 ब्लैक स्पाॅटों में जाकर नुक्कड़ सभाएं करेगी। इसके लिए यमराज का सहारा लिया जाएगा। ट्रैफिक पुलिस के एक जवान को यमराज बनाकर इन स्थानों पर तैनात किया जाएगा। वह वाहन चालकों को ट्रैफिक नियमों की जानकारी देगा और सड़क हादसे से बचने के उपाय बताएगा। यमराज के साथ चित्रगुप्त भी रहेगा। इसकी तैयारी की जा रही है। 

सालभर पहले शहर के चौक चौराहों पर ऐसा ही प्रयोग किया गया था। करवा चौथ के मौके पर पुलिस ने शहर में हेलमेट को लेकर जागरूकता अभियान चलाया। इसमे यमराज के वेश में पुलिसकर्मी वाहन चालकों को समझाते नजर आए। अभियान की शुरुआत नेहरू चौक से हुई थी। शहर में यमराज सड़कों पर वाहन चालकों को हिदायत देते नजर आए। बिलासपुर जिले के सीपत, रतनपुर, कोटा, तखतपुर, हिर्री, बिल्हा, मस्तूरी, सकरी थाना क्षेत्र में सबसे अधिक हादसे होते हैं।


14 ब्लैक स्पाॅटों पर होगी नुक्कड़ सभाएं
जिला रोड सेफ्टी सेल ट्रैफिक ने 2019 के लिए 14 नए ब्लैक स्पॉट चिन्हित किए हैं। इनमें छतौना मोड़, बोदरी मोड़, तिफरा ओवरब्रिज, सकरी, बेलतरा, सांझीपारा, बाइपास, मस्तूरी, महामाया चौक, बोदरी चौक, मोपका चौक व चार अति संवेदनशील में मदनपुर लखराम मोड़ रतनपुर, हाईटेक बस स्टैंड सिरगिट्‌टी, बसंत विहार सरकंडा, पेंड्री मस्तूरी शामिल हैं। शहर व आसपास के ब्लैक स्पाॅट में आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। पिछले तीन साल के भीतर हाईकोर्ट चौक चौक पर सबसे अधिक 42 हादसे हुए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना