142 लोगों ने किया रक्तदान, डॉक्टरों ने कहा- ब्लड डोनेट से नहीं आती कमजोरी

Bilaspur News - शहर के विभिन्न समाजसेवी तथा व्यवसायी संगठनों ने मिलकर शुक्रवार को रक्तदान शिविर का आयोजन किया। सीएमडी चौक के पास...

Bhaskar News Network

Jun 15, 2019, 06:30 AM IST
Bilaspur News - chhattisgarh news 142 people donated blood doctors said weakness not coming from blood donate
शहर के विभिन्न समाजसेवी तथा व्यवसायी संगठनों ने मिलकर शुक्रवार को रक्तदान शिविर का आयोजन किया। सीएमडी चौक के पास एरीना एनिमेशन अकादमी में सुबह 10 से शाम 5 बजे तक शिविर चला। शिविर में 142 रक्तदाताओं ने रक्तदान किया। वहीं बीपी/शुगर के 37 रक्तदाताओं को वापस कर दिया। शिविर के दौरान डॉक्टरों ने लोगों को जागरूक करते हुए कहा कि ब्लड डोनेट करने से शरीर में कोई कमजोरी नहीं आती है।

सीएचएमओ डॉ. प्रमोद महाजन, पीएनबी के मंडल प्रमुख केएल कुकरेजा, बैंकर्स क्लब के संयोजक ललित अग्रवाल, डॉ. एसके गिडवानी, त्रिपेन दत्ता, वीके गुप्ता, वेंकटरमण और संदीप गुप्ता ने शिविर की शुरूआत की। अपोलो से डॉ. अक्षय नायडू, मंजरी ठाकुर, दिव्या देवांगन, ईश्वरी, उज्ज्वल नंदा, निलय मिस्त्री ने 59 लोगो का निशुल्क मेडिकल चेकअप किया। शाम को स्टेट बैंक के डीजीएम एस राधाकृष्णन राव ने एकता ब्लड बैंक व अपोलो स्टॉफ तथा सभी आयोजकों और रक्तदाताओं का धन्यवाद ज्ञापित किया। शिविर को सफल बनाने में प्रिंस भाटिया, अविनाश आहूजा, नवदीप अरोरा, जीत द्विवेदी, प्रदीप पूरी, एसबी सिंह, सतविंदर सिंह, देव रुद्राकर, अभिषेक विधानी, अभिनव गुप्ता, कपिल शुक्ला, आशिफ कुरैशी, डॉ. एसके गिडवानी, मनीष मौर्य, रूही बाला, यश गुप्ता, मेघा साहू, निधि मिश्रा, अनिल कुमार, विक्की रॉय, राकेश रोशन पाठक, राकेश कुमार खिल्लन, लीलाधर पटेल, राजा खान, अविनाश तिग्गा, नवीन जाधव, आयुषी भट्टाचार्या, जसमीत सिंह भाटिया, राम साहू, ओम प्रकाश, चंचल अग्रवाल, दुर्गेंद्र सूर्यवंशी, धरम बघेल , डीडी चंद्रा, नरेश कुमार सतनामी, सागर कुमार, अनुभव देवांगन ने योगदान दिया।

रक्तदान शिविर के दौरान उपस्थित संगठनों के पदाधिकारी व अन्य।

बताए रक्तदान के फायदे

ब्लड डोनेशन से हार्ट अटैक की आशंका कम होती है। डोनेशन से खून पतला होता है, जो कि हृदय के लिए अच्छा होता है। रिसर्च के मुताबिक नियमित ब्लड डोनेट करने से कैंसर व दूसरी बीमारियों के होने का खतरा भी कम हो जाता है, यह शरीर में मौजूद विषैले पदार्थों को बाहर निकालता है। ब्लड डोनेट करने के बाद बोनमैरो नए रेड सेल्स बनाता है। इससे शरीर को नए ब्लड सेल्स मिलने के अलावा तंदुरुस्ती भी मिलती है।

X
Bilaspur News - chhattisgarh news 142 people donated blood doctors said weakness not coming from blood donate
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना