• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • Bilaspur News chhattisgarh news 16257 ration card holders do not have the link they will go home and photograph know whether they live there or not in the app

16,257 राशन कार्डधारियों के आधार लिंक नहीं, उनके घर जाकर खीचेंगे फोटो, जानेंगे वहां रहते हैं या नहीं फिर एप में करेंगे अपलोड

Bilaspur News - बगैर आधार सीडिंग वाले राशन कार्डधारियों के घर जाकर सत्यापन दल उनके निवास का फोटो खीचेंगे और 6 तरह की जानकारी...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 06:30 AM IST
Bilaspur News - chhattisgarh news 16257 ration card holders do not have the link they will go home and photograph know whether they live there or not in the app
बगैर आधार सीडिंग वाले राशन कार्डधारियों के घर जाकर सत्यापन दल उनके निवास का फोटो खीचेंगे और 6 तरह की जानकारी मोबाइल एप पर अपलोड करेंगे। इसमें यह कि राशनकार्ड में दर्ज सभी लोग वहां रहते हैं या नहीं, मुखिया की मृत्यु तो नहीं हो गई है?, परिवार के मुखिया के पास आधार है या नहीं, शामिल है। अगर पात्रता में खरे नहीं उतरे तो राशनकार्ड निरस्त करने की अनुशंसा कारण सहित सत्यापन दल के सदस्य करेंगे। जिले में 16 हजार 257 राशन कार्डधारियों के आधार सीड नहीं है। प्रदेश में 58 लाख 54 हजार 827 राशन कार्डधारी हैं। इनमें से 56 लाख 27 हजार 131 कार्ड ही आधार से सीड हैं। बाकी बचे 2 लाख 22 हजार 433 राशनकार्ड में एक भी सदस्य का आधार सीड नहीं है। वहीं जिले में 4 लाख 90 हजार 944 कार्ड हैं जिनमें 4 लाख 74हजार 687 के ही आधार सीड हैं। दरअसल सभी राशनकार्डों का नवीनीकरण किया जा रहा है लेकिन जिन कार्डों के आधार सीड नहीं है, उनके घरों में सत्यापन दल जाएंगे।15 जुलाई से लेकर 29 जुलाई तक राशन कार्डधारियों से सत्यापन केंद्रों में आवेदन लिए जाएंगे। जिले के 645 ग्राम पंचायतों के लिए इतने ही तो नगरीय निकायों के लिए अलग-अलग सत्यापन दल का गठन किया गया है। इन सत्यापन दलों की बड़ी ही महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्हें 31 जुलाई तक भौतिक सत्यापन कर कार्यालयों में रिपोर्ट जमा करना है। ऐसे राशनकार्ड जिनमें किसी भी सदस्य का आधार सीडिंग नहीं हुआ है, उसकी जानकारी संचालनालय जिले के खाद्य अधिकारियों को उपलब्ध कराएगा। खाद्य अधिकारी यह जानकारी सत्यापन दलों को देंगे। कलेक्टर द्वारा तय प्राधिकृत अधिकारी एक विभागीय एप अपने मोबाइल पर इंस्टाल करेंगे। इसके बाद ऐसे कार्डधारियों के घरों में सत्यापन दलों के साथ उनकी पात्रता की जांच के लिए जाएंगे। सबसे पहले वे राशनकार्डधारी के घर की फोटो खिचेंगे। फिर पता लगाएंगे कि आवेदक आवेदन पत्र में बताए पते पर निवास करता है या नहीं। यदि निवास करते हैं तो कितने सदस्य रहते हैं? राशनकार्ड में दर्ज ऐसे सदस्य जो भौतिक रूप से निवास पते पर निवासरत नहीं मिले तो राशनकार्ड को निरस्त करने की अनुशंसा करेंगे। परिवार के मुखिया के आधार है या नहीं? य जानकारी अपलोड करने के बाद दल के सदस्य तय करेंगे कि उनके राशनकार्ड नवीनीकरण की अनुंशसा करनी है या नहीं, अगर नहीं करना है तो उन्हें चार में से एक ऑप्शन चुनना होगा। पहला आवेदक वहां निवास करते नहीं मिला, दूसरा मुखिया की मृत्यु हो चुकी है, तीसरा पात्रता का आधार सही नहीं है और चौथा ये कि आवेदन का नाम किसी अन्य कार्ड में मुखिया या सदस्य के तौर पर दर्ज है। एप में दर्ज की गई जानकारी प्राधिकृत अधिकारी विभागीय वेबसाइट पर अपलोड करेंगे। इसके अलावा आवेदन पत्र में आवेदकों की पात्रता या अपात्रता संबंधी टीप भी लिखेंगे।

8 सितंबर तक दिए जाएंगे कार्ड

जब तक पुराने राशनकार्डों का नवीनीकरण नहीं हो जाता, न तो नए राशनकार्ड बनाए जाएंगे और न ही एपीएल कार्ड। खाद्य विभाग से मिले निर्देश के मुताबिक किसी भी सत्यापन केंद्र में नए राशनकार्ड के लिए आवेदन नहीं लिया जाएगा। 8 सितंबर तक पुराने राशन कार्डधारियों को नए कार्ड दिया जाना है। इसके बाद ही एपीएल और नए लोगों से कार्ड के लिए आवेदन लिया जाएगा।

X
Bilaspur News - chhattisgarh news 16257 ration card holders do not have the link they will go home and photograph know whether they live there or not in the app
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना