विज्ञापन

अपने ही गुनाहगार भाई को फोन कर धमकाया लड़के को मार कर फेंक देंगे

Dainik Bhaskar

Mar 16, 2019, 03:20 AM IST

Bilaspur News - भास्कर न्यूज | कवर्धा/कुंडा अपहरण के मामले में दो घंटे के भीतर ही पुलिस ने आरोपी को भी दबोच लिया और 6 साल के बच्चे...

Mungeli News - chhattisgarh news call your own sinister brother and throw the threatened boy and throw him
  • comment
भास्कर न्यूज | कवर्धा/कुंडा

अपहरण के मामले में दो घंटे के भीतर ही पुलिस ने आरोपी को भी दबोच लिया और 6 साल के बच्चे को उसके कब्जे से छुड़ाकर मां-बाप के हवाले कर दिया। मामला कुंडा थाने के खैरझिटी गांव का है। एक दिन पहले ही रात लगभग 8 बजे आरोपी ईश्वर साहू ने अपने चचेरे भाई के 6 साल के बच्चे का अपहरण कर लिया। उसने अपने भाई को फोन किया और बिना पहचान उजागर किए उससे 3 लाख रुपए की फिरौती मांगी। उसने अपने भाई को रुपए लेकर पंडरिया आने कहा। लेकिन इसकी सूचना जब पुलिस तक पहुंची, तो सिर्फ दो घंटे में ही पुलिस आरोपी तक पहुंच गई और उसे गिरफ्त में ले लिया।

एक दिन पहले 14 मार्च की रात लगभग 8 बजे ग्राम खैरझिटी निवासी श्रवण साहू थाने पहुंचे। उसने थाने में बताया कि उसका पुत्र, जो महज 6 साल का है, वह शाम से घर में नहीं है। उनके मोबाइल नंबर पर किसी अज्ञात व्यक्ति के मोबाइल नंबर से फोन आया था, जिसने पहले पूछा कि आप लड़के के पिता बोल रहे हो। अज्ञात आरोपी ने कहा कि मैं तुम्हारे लड़का को लेकर जा रहा हूं, तुम 3 लाख रुपए लेकर पंडरिया के पास आ जाओ, पंडरिया के पास पहुंचने मुझे कॉल करना। श्रवण ने यह भी बताया कि फोन करने वाले ने यह भी धमकी दी कि पुलिस को सूचना देने पर लड़के को मारकर फेंक देंगे।

आरोपी ईश्वर

दो लाख रुपए के कर्जे से परेशान आरोपी ने तीन लाख की फिरौती मांगने चचेरे भाई के 6 साल के बच्चे का ही कर लिया अपहरण, पुलिस ने नाकेबंदी कर दो घंटे में पकड़ा

क्राइम: कुंडा थाने के खैरझिटी गांव का मामला, बाइक का किस्त भी देना था

बाइक खरीदने बहन से भी आरोपी ने रुपए लिए थे उधार

पूछताछ में आरोपी ईश्वर साहू ने बताया कि वह उस बच्चे का पारिवारिक चाचा है। उसने कहा कि उसके ऊपर कर्जा है, जिसके चलते पैसे की कमी के कारण उसने अपने चचेरे भाई के बच्चे का ही अपहरण कर लिया। थाना कुंडा में आरोपी के खिलाफ धारा 363, 364 (क) भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया है। बताया जाता है कि आरोपी के सिर पर तकरीबन 2 लाख रुपए का कर्जा है। हाल ही में उसने नई मोटर साइकिल भी खरीदी थी, जिसके लिए भी उसने अपनी बहन से रुपए उधार लिए थे। इसी कर्ज को उतारने के लिए उसने अपहरण और फिरौती की साजिश रची थी।

पहले मुंगेली जिले के के फास्टरपुर की ओर गई टीम

इतनी जानकारी मिलते ही थाना प्रभारी कुंडा राजेश जांगड़े ने अपने सीनियर्स को सूचना दी। बच्चे को ढूंढने व अज्ञात मोबाइल धारक का पता लगाने के लिए टीम गठित हुई और उन्हें रवाना कर दिया गया। इस टीम में एसडीओपी नरेन्द्र बेंताल, एसआई पीएस ठाकुर, एएसआई शंकर लाल टंडन, आरक्षक लल्लू सिंह राजपूत, दिलीप नेताम थे। सरहदी थाना क्षेत्रों में नाकेबंदी की। टीआई के अगुवाई में टीम थाना फास्टरपुर जिला मुंगेली की ओर रवाना हुई। मुखबिर ने सूचना दी कि एक व्यक्ति सोल्ड गाड़ी में छोटा बच्चा बैठाकर कोसमतरा की ओर जा रहा है। इसके बाद उसे पकड़ा गया।

सूचना के बाद तत्काल समन्वय बना किया अलर्ट


X
Mungeli News - chhattisgarh news call your own sinister brother and throw the threatened boy and throw him
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन