पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बच्चों काे स्कूल में मिलेगा पौष्टिक नाश्ता मंत्री डॉ. साय ने योजना का किया शुभारंभ

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बच्चों में कुपोषण दूर करने के लिए स्कूली विद्यार्थियों को पौष्टिक ब्रेकफास्ट देने के पायलट प्रोजेक्ट की शुरुआत बुधवार से हो गई है। केंद्र सरकार की स्वीकृति के बाद प्रदेश सरकार ने बिलासपुर जिले के आदिवासी बाहुल्य पेंड्रा विकासखंड के ग्राम नवागांव से ब्रेकफास्ट योजना की शुरुआत स्कूल शिक्षा मंत्री डाॅ. प्रेमसाय सिंह टेकाम के मुख्य आतिथ्य में की गई है। इस योजना से विकासखंड के माध्यमिक और प्राथमिक शालाओं के 10 हजार 82 बच्चे लाभांवित होंगे।

पेण्ड्रा विकासखंड में यह योजना पायलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू की गई है। योजना के सफल क्रियान्वयन होने पर इसे पूरे राज्य में लागू किए जाने की संभावना है। इस योजना को शुरुआत करने का उद्देश्य यह है कि जनजाति बहुल क्षेत्र के बच्चे सुबह स्कूल जाते हैं तब वे पर्याप्त मात्रा में खाना खाकर नहीं आते हैं और उन्हें मध्यान्ह भोजन दोपहर में डेढ़ बजे मिल पाता है। भूख के कारण उनका पूरा ध्यान भोजन में रहता है। लेकिन अच्छा नाश्ता करने के बाद वे मन लगाकर पढ़ाई कर सकेंगे। नाश्ता छत्तीसगढ़ बीज एवं कृषि विकास निगम के द्वारा तैयार किया जाएगा। नाश्ते में उच्च प्रोटीनयुक्त सोया क्रंच, चिवड़ा, हलवा, सोया बिस्किट आदि दिया जाएगा।

प्रदेश का नाम रोशन करेंगे बच्चे: डॉ. प्रेमसाय
नवगांव से योजना का शुभारंभ करते हुए स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह ने कहा कि पौष्टिक नाश्ता मिलने से बच्चे पूरा मन लगाकर पढ़ाई करेंगे और प्रदेश तथा देश का नाम रौशन करेंगे। कुपोषण दूर करने में यह योजना लाभदायक है। बच्चे स्वस्थ्य रहेंगे तो वे भविष्य में स्वस्थ्य नागरिक बनेंगे। उन्होंने बताया कि बच्चों में पढ़ाई के प्रति रुचि पैदा करने और शिक्षा का स्तर ऊंचा करने के लिए सरकार प्रयासरत है। स्कूल की स्थिति शिक्षक एवं स्कूल की आवश्यकताओं के संबंध में जानकारी प्राप्त करने के लिए एप बनाया गया है। उन्होंने कहा कि कमजोर बच्चों का परीक्षाफल बेहतर बनाने के लिये शिक्षकों को विशेष प्रयास करने की जरूरत है। कलेक्टर डॉ. संजय अलंग ने कहा कि आज एक अच्छी योजना की शुरूआत हो रही है। पौष्टिक नाश्ता बच्चों को सुलभ होगा। उन्होंने कहा कि बच्चों में कुपोषण दूर हो जाए, यह प्रयास समाज को करना चाहिए। इस अवसर पर प्रशासन के अफसर मौजूद रहे।

योजना से 10 हजार बच्चों को मिलेगा लाभ
फ्लेक्सी मद अंतर्गत पेंड्रा विकासखंड के 125 प्राथमिक एवं 61 माध्यमिक शालाओं के 10 हजार 82 विद्यार्थियों को प्रतिदिन पौष्टिक ब्रेकफास्ट प्रदाय किया जाएगा। ब्रेकफास्ट में दिए जाने वाले सामग्री में शासन द्वारा पौष्टिक पदार्थ की मात्रा भी निर्धारित की गई है। जिसमें 105 ग्राम में 15 ग्राम प्रोटीन, 20 ग्राम उच्च प्रोटीन फोर्टिफाइड सोया बिस्किट, 30 ग्राम चिवड़ा एवं 50 ग्राम उच्च प्रोटीन फोर्टिफाइड हलवा दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- सकारात्मक बने रहने के लिए कुछ धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करना उचित रहेगा। घर के रखरखाव तथा साफ-सफाई संबंधी कार्यों में भी व्यस्तता रहेगी। किसी विशेष लक्ष्य को हासिल करने ...

    और पढ़ें