• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • Bilaspur News chhattisgarh news commissioning of third and fourth railway line foib girder launch tolly many trains canceled passenger hassles

तीसरी व चौथी रेलवे लाइन की कमीशनिंग, एफओबी की गर्डर लॉंचिंग टली, कई ट्रेनें रद्द, यात्री परेशान

Bilaspur News - चांपा-सारागांव के बीच तीसरी व चौथी रेलवे लाइन की कमीशनिंग का काम चल रहा है। 2 फरवरी तक यह काम चलेगा। इसकी वजह से...

Bhaskar News Network

Jan 11, 2019, 03:20 AM IST
Bilaspur News - chhattisgarh news commissioning of third and fourth railway line foib girder launch tolly many trains canceled passenger hassles
चांपा-सारागांव के बीच तीसरी व चौथी रेलवे लाइन की कमीशनिंग का काम चल रहा है। 2 फरवरी तक यह काम चलेगा। इसकी वजह से बिलासपुर-रायगढ-झारसुगड़ा के बीच कई ट्रेनें रद्द हैं, कई ट्रेनों का परिचालन प्रभावित है। इतना ही नहीं बिलासपुर रेलवे स्टेशन के हावड़ा एंड पर एफओबी एक्सटेंशन का काम भी इससे प्रभावित हो रहा है। प्लेटफार्म नंबर 3 से 4 तक गर्डर लॉंचिंग फिलहाल रोक दी गई है। एफओबी चौड़ा नहीं होने से यात्रियों को हर दिन परेशानी हो रही है।

बिलासपुर रेलवे स्टेशन में हावड़ा एंड पर गेट नंबर चार पर बने 6 मीटर चौड़े फुटओवरब्रिज के एक्सटेंशन का काम तेजी से चल रहा है। प्लेटफार्म नंबर 4-5 पर जहां गर्डर रखा जाना है उसके लिए चारों पिलर खड़े हो चुके हैं। प्लेटफार्म बनना शेष है लेकिन जब तक गर्डर नहीं रखा जाएगा तब तक रैंप का प्लेटफार्म नहीं बन पाएगा। रैंप के निचले ढलान का काम निरंतर जारी है लेकिन जब तक प्लेटफार्म नंबर 3 व 4 के बीच गर्डर नहीं रखा जाता है तब यह पूरा नहीं होगा। गर्डर लांचिंग के लिए कंस्ट्रक्शन विभाग ने ब्लॉक लेने फाइल चलाई थी लेकिन तकनीकी खामी की वजह से जीएम ने सुधार के लिए फाइल वापस विभाग को भेज दी थी। इस बीच सीआरएस इंस्पेक्शन के बाद चांपा-सारागांव तीसरी व चौंथी रेलवे लाइन पर ट्रेन चलाने की मंजूरी मिल गई। मंजूरी मिलते ही नई रेल लाइन को चांपा और सारागांव रेलवे स्टेशन यार्ड से जोड़ने का काम शुरू कर दिया गया है। इसमें सिग्नल, इलेक्ट्रिकल, ओएचई सहित सभी तरह के काम हैं। 8 किलोमीटर लंबी रेलवे लाइन में ऐसे बहुत से पाइंट हैं जिन्हें आपस में कनेक्ट किया जाना है। इस काम में लगभग एक महीना लग जाना है। काम पूरा होने के बाद ही हावड़ा एंड के एफओबी एक्सटेंशन के लिए गर्डर लांचिंग के लिए ब्लाक लिया जाएगा।

8 किमी रेलवे लाइन में कई पाइंट को आपस में कनेक्ट होना है

हावड़ा एंड पर एफओबी एक्सटेंशन का काम प्रभावित हो रहा है।

हर दिन परेशान होते हैं यात्री: बिलासपुर रेलवे स्टेशन से प्लेटफार्म नंबर 3 से 5 तक जाने के लिए एफओबी की चौड़ाई काफी कम है। इसकी वजह से सुबह रायगढ़-बिलासपुर लोकल, दोपहर में जेडी पैसेंजर सहित अन्य ट्रेनों से उतरकर बाहर निकलने वाले और बाहर से अंदर प्लेटफार्म पर जाने वाले यात्रियों की काफी भीड़ होती है। सकरा एफओबी होने की वजह से किसी-किसी दिन भगदड़ जैसी स्थिति हो जाती है। नया और चौड़ा एफओबी जल्दी बनने पर ही यात्रियों की परेशानी कम होगी।

11 घंटे का समय मांगा

एफओबी एक्सटेंशन के लिए गर्डर लांचिंग कर ने कंस्ट्रक्शन सहित अन्य समस्त विभागों ने लगभग 11 घंटे का समय मांगा है। अगर विभाग इन कामों के लिए 11 घंटे का ब्लाक मांग रहे हैं तो निश्चित तौर पर गर्डर लांचिंग के काम में 15 घंटे का समय लग सकता है। यह तो सिर्फ गर्डर लांचिंग का समय दिया गया है लेकिन लांचिंग से पहले वर्तमान के 6 मीटर एफओबी का कुछ हिस्सा भी तो तोड़ना पड़ेगा। उसमें 4 से 5 घंटे लगने की संभावना जताई जा रही है।

X
Bilaspur News - chhattisgarh news commissioning of third and fourth railway line foib girder launch tolly many trains canceled passenger hassles
COMMENT