चरित्र शंका पर शराबी ने पत्नी को बच्चों के सामने ही जिंदा जला दिया

Bilaspur News - चरित्र शंका पर शराबी पति ने अपनी प|ी को बच्चों के सामने ही जिंदा जला दिया। उसे 95 फीसदी झुलसी हालत में सिम्स में भर्ती...

Dec 04, 2019, 07:50 AM IST
Bilaspur News - chhattisgarh news drunken wife burnt alive in front of children on character suspicion
चरित्र शंका पर शराबी पति ने अपनी प|ी को बच्चों के सामने ही जिंदा जला दिया। उसे 95 फीसदी झुलसी हालत में सिम्स में भर्ती कराया गया था। यहां उसकी मौत हो गई। 17 साल की बेटी व पड़ोसी के बयान के आधार पर पुलिस ने उसके आरोपी पति के खिलाफ हत्या का जुर्म दर्ज कर लिया है। मामला सरकंडा थाना क्षेत्र का है। ग्राम बहतराई रामायण चौक निवासी कालिंद्री बाई पति गंगा प्रसाद 40 वर्ष रोजी-मजदूरी करती थी। उसके पैसे से ही घर का खर्च चलता था। पति शराब पीने का आदी था। काम पर भी नहीं जाता था और चरित्र संदेह पर झगड़ा करता था। 27 नवंबर को रोज की तरह महिला शाम को 6 बजे काम से लौटी। पति घर पर ही था। दोनों बच्चे बड़ी बेटी 17 साल की और बेटा 5 साल भी मौजूद थे। गंगा प्रसाद शराब के नशे में धुत था। प|ी के आते ही झगड़ने लगा। उसपर बाहर से गलत काम कर लौटने का आरोप लगाते हुए गालियां देने लगा। मना करने पर उसका गुस्सा और बढ़ गया। वह किचन से मिट्टीतेल का डिब्बा उठाकर ले आया। इसे कालिंद्री के शरीर पर उड़ेल दिया और माचिस से आग लगा दी। महिला गंभीर रूप से झुलस गई। उसे सिम्स में भर्ती कराया गया था। 1 दिसंबर को उसकी यहां पर मौत हो गई। घटना की सूचना पर पुलिस ने जांच शुरू की और कालिंद्री की बेटी व पड़ोसी टीकाराम उर्फ टिकलू का बयान लिया और इसके आधार पर गंगाराम के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया । उसे जेल भेज दिया गया है।

पड़ोसी बचाने आया तो उसका हाथ पकड़ लिया

आरोपी गंगा प्रसाद।

काम से लौटी तो कहा, दूसरों के साथ गलत काम कर आ रही

कालिंद्री के दो बच्चे हैं। इनमें बड़ी 17 साल की है। वह 11वीं की छात्रा है। छोटा बेटा 5 साल का है। घटना के समय दोनों घर पर थे। बेटी का पुलिस ने बयान दर्ज किया। उसने कहा कि उसके आंखों के सामने ही पूरी घटना हुई है। उसकी मां को पिता ने जिंदा जला दिया। वह काफी डर गई थी। जलते हुए मां इधर-उधर दौड़ रही थी पर पिता को उसपर दया नहीं आई। मां शाम को काम से घर लौटी तो पिता शराब के नशे में धुत था। आते ही गाली देते हुए कहा-दूसरे के साथ गलत काम करके आई है। ऐसा वह आए दिन कहता था। मां के पैसे से ही खर्च का चलता था। फीस भी वही पटाती थी। मां को जब भी डांट पड़ती थी वह अनसुना कर देती थी। घटना के समय उसका छोटा भाई भी था। वह भी काफी डरा हुआ था। मां को देखकर वह रो रहा था। दोनों अभी तक इस हादसे से उबर नहीं पाए हैं। बेटी पहले ही दिन से सदमे में थी। पुलिस को बयान देते समय वह पहले वह काफी समय तक रोयी फिर पूरी कहानी बयां की। घटना के दौरान ही उसने फोन कर अपने दोनों मामा को जानकारी दी तो सिम्स पहुंचे। पुलिस ने उनका भी बयान दर्ज किया। उन्होंने बताया कि गंगाराम आए दिन उनकी बहन को प्रताड़ित करता था। कई बार उसे समझाकर भी गए।

कालिंद्री के घर के पास ही टिकाराम उर्फ टिकलू का भी मकान है। जब कालिंद्री जल रही थी तो वह घर पर ही था। उसके मासूम बेटे ने आकर जानकारी दी तो वह कालिंद्री के घर पहुंचा। कालिंद्री भीतर जल रही थी और गंगाराम बाहर खड़ा था। टिकाराम का उसने हाथ पकड़ लिया। कहा-उसका यह पर्सनल मामला है,वह दखल न दे। टिकाराम हाथ छुड़ाकर जबरन घर में घुस गया और कालिंद्री बाई के शरीर पर कपड़ा डालकर आग बुझाई फिर उसे सिम्स लेकर आया।

महिला कुछ बोल रही थी पर समझ में नहीं आया

केस की जांच कर रहे सरकंडा थाने के एसआई आरए यादव ने बताया कि उन्हें जब घटना का पता चला तो महिला का बयान लेने सिम्स पहुंचे। वह काफी गंभीर थी। टूटी फूटी भाषा में कुछ बुदबुदा रही थी। उसकी बात समझ में नहीं आ रहा था। हालत गंभीर होने के कारण उसका मृत्युपूर्व बयान नहीं हो सका।

X
Bilaspur News - chhattisgarh news drunken wife burnt alive in front of children on character suspicion
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना