गांव में शिविर लगाकर ग्रामीणों को बताए नशे के नुकसान

Bilaspur News - शराब नशा मुक्ति महासंघ मुंगेली व बिलासपुर की वार्षिक बैठक अचानकमार अभ्यारण्य के वन ग्राम राजक में आयोजित की गई।...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 06:31 AM IST
Bilaspur News - chhattisgarh news injury to villagers by camping in village
शराब नशा मुक्ति महासंघ मुंगेली व बिलासपुर की वार्षिक बैठक अचानकमार अभ्यारण्य के वन ग्राम राजक में आयोजित की गई। जिसमें नशा मुक्ति अभियान की समीक्षा हुई। मुंबई की डॉ. उज्ज्वला कलम्बे ने शराब नशामुक्ति महासंघ की बैठक में शराब के सेवन करने से होने वाले शारिरीक, समाजिक, आर्थिक, नुकसान से संघ के लोगों को अवगत कराया।

डॉ. उज्ज्वला ने कहा कि हाल में ही प्रकाशित द लांसेंट जर्नल की रिपोर्ट के अनुसार भारत में शराब की खपत सन 2010 से 2017 के दौरान 38 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट के अनुसार देशभर मे महिला उत्पीड़न के 85% मामले शराब पीने के बाद होते हैं। देश में 30% लोग प्रतिदिन शराब पीते हैं। सामाजिक कार्यकर्त्ता अनिल बामने ने सवाल उठाया कि समय-समय पर शराबबंदी की मांग छत्तीसगढ़ में उठती रही है, लेकिन इस विषय में ठोस काम नहीं हुआ। विकासशील फाउंडेशन के अध्यक्ष लक्ष्मी जायसवाल ने संघ के सदस्यों को कहा शराब पीने की आदत समाज और हमारी पीढ़ी के लिए नुकसानदायक है। आयोजन में 15 गांव के नशा मुक्ति महासंघ से जुड़े लोगों ने बड़ी संख्या में हिस्सा लिया। इस दौरान सेवाराम धुर्वे, सीताराम साकत, नरेश आर्मो, बजरंग, अमृका प्रसाद साहू, हरिनंदन, रामचरण, राज्किमर बैगा, धर्मेंद्र समेत अन्य लोग मौजूद रहे। इस दौरान सभी ने नशे से दूर रहने की बात कही। साथ ही अन्य लोगों को नशे से दूर रहने की समझाइश देने की बात कही।

X
Bilaspur News - chhattisgarh news injury to villagers by camping in village
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना