--Advertisement--

कछार स्थित ट्रेचिंग ग्राउंड में सीमांकन से इनवायरोकेयर का बेजा कब्जा पाया गया

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 03:20 AM IST

Bilaspur News - कछार स्थित ट्रेचिंग ग्राउंड में राजस्व अमले ने इनवायोकेयर को आवंटित भूमि तथा उसके निर्माण की रविवार को नापजोख...

Bilaspur News - chhattisgarh news insurancer39s captive possession was found in demarcation in the cachar based trachting ground
कछार स्थित ट्रेचिंग ग्राउंड में राजस्व अमले ने इनवायोकेयर को आवंटित भूमि तथा उसके निर्माण की रविवार को नापजोख की। बायोमेडिकल वेस्ट के डिस्पोजल के लिए इनवायरोकेयर इंटरनेशनल कंपनी को ठेका दिया गया है। जमीन विवाद को लेकर हाईकोर्ट में चल रही याचिका की सुनवाई के दौरान सीमांकन रिपोर्ट मांगी गई। इस सिलसिले में नगर निगम, कंपनी के स्टाफ की उपस्थिति में एसडीएम देवेंद्र पटेल के निर्देशन में जमीन का सीमांकन कराया गया। बताया जाता है कि नापजोख के दौरान मेडिकल वेस्ट संग्रहित करने के लिए बनाया गया30 बाई 38 का भवन, 11 बाई 11 का टॉयलेट और 6 बाई 6 का पॉवर हाउस बेजा कब्जा में पाया गया। नगर निगम ने बायोमेडिकल वेस्ट के निबटान के लिए इनवायरोकेयर को 45 हजार वर्गफुट भूमि कछार में आवंटित की थी। निगम के सब इंजीनियर जुगल सिंह के मुताबिक सीमांकन में आवंटित भूमि से अतिरिक्त भूमि पर कंपनी का कब्जा पाया गया।

ट्रेचिंग ग्राउंड में आवंटित भूमि की नापजोख करता राजस्व अमला।

निगम पर लगाए अनियमितता के आरोप

इनवायरोकेयर के संचालक जेकब कोशी ने आरोप लगाया कि बायोमेडिकल वेस्ट के निबटान के लिए बनाए गए नियम 1998 के अनुसार इंसीनरेटर के एक किलोमीटर के दायरे में झुग्गी झोपडिय़ां नहीं होनी चाहिए। केंद्रीय पर्यावरण संरक्षण के नियमों में ऐसा प्रावधान प्रदूषण के मद्देनजर किया गया है,क्योंकि जमा होने वाले बायोमेडिकल वेस्ट से टीबी तथा अन्य रोगों के संक्रमण का खतरा रहता है। जमीन की कमी के चलते अधिनियम में 2016 में संशोधन कर एक किलोमीटर की जगह 500 मीटर की दूरी निर्धारित की गई। संचालक का आरोप है कि कंपनी ने जब प्लांट स्थापित किया, नगर निगम ने पास पड़ोस में काबिज झुग्गी झोपड़ियों को हटवाने का आश्वासन दिया था,परंतु अब तक उस पर अमल नहीं किया गया।

पंचनामे में दस्तखत से किया इनकार

कछार में सीमांकन के दौरान इनवायरोकेयर की ओर से संदीप सिंह उपस्थित थे, परंतु उन्होंने दस्तखत से इनकार कर दिया। इधर कंपनी के संचालक जेकब कोशी का आरोप है कि बिना सूचना के छुट्टी के दिन अचानक सीमांकन कराया गया। उन्होंने कहा कोई बेजा कब्जा नहीं किया है।

X
Bilaspur News - chhattisgarh news insurancer39s captive possession was found in demarcation in the cachar based trachting ground
Astrology

Recommended

Click to listen..