• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • Bilaspur News chhattisgarh news lathicharge case head constable said congressmen were giving abusive language keeshwarwani said police had ransacked the lathis

लाठीचार्ज मामला: हेड कांस्टेबल ने कहा-कांग्रेसी गालियां दे रहे थे, केशरवानी बोले- पुलिस ने बरसाईं थीं लाठियां

Bilaspur News - प्रशासनिक रिपोर्टर | बिलासपुर लाठीचार्ज मामले में चल रही दंडाधिकारी जांच में प्रधान आरक्षक ने अपने बयान में...

Bhaskar News Network

Feb 14, 2019, 02:25 AM IST
Bilaspur News - chhattisgarh news lathicharge case head constable said congressmen were giving abusive language keeshwarwani said police had ransacked the lathis
प्रशासनिक रिपोर्टर | बिलासपुर

लाठीचार्ज मामले में चल रही दंडाधिकारी जांच में प्रधान आरक्षक ने अपने बयान में कांग्रेसियों को गालियां देना बताया तो जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष ने कहा कि गालियां व अपशब्दों का प्रयोग पुलिसकर्मी कर रहे थे। वे कांग्रेस भवन जबरन घुसकर लाठी-डंडे बौछारकर कांग्रेसजनों को गिरफ्तार कर ले गए। बुधवार को अतिरिक्त दंडाधिकारी के कोर्ट में एएसपी अर्चना झा और लाठीचार्ज के आरोपी प्रधान आरक्षक हरनारायण पाठक ने बयान दिया। पाठक ने बताया कि कांग्रेसियों के प्रदर्शन के दौरान उनकी ड्यूटी राजेंद्र नगर चौक में लगी थी। कांग्रेसियों ने तत्कालीन नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल के बंगले में कचरा फेंका और रोकने पर पुलिसकर्मियों अभद्र व्यवहार व गाली-गलौज किया। इसके बाद उन्होंने सिविल लाइन थाने में कांग्रेसियों के खिलाफ रिपोर्ट लिखाई और अधिकारी के कहने पर कांग्रेस भवन गए। वहां भी कांग्रेसी अभद्र व्यवहार करते हुए कह रहे थे पुलिस की नौकरी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो जाओ। एएसपी झा ने उस दिन कोटा में वीआईपी ड्यूटी में होना बताया। बता दें कि कांग्रेसियों के बयान में यह बात आई थी कि झा ने उन्हें डॉक्टरी मुलाहिजा के लिए सिम्स भेजा था। इधर दो बिंदू जोड़े जाने के बाद बयान देने पहुंचे जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष विजय केशरवानी ने जांच अधिकारी को बताया कि तत्कालीन मंत्री अमर अग्रवाल के द्वारा कांग्रेसियों को कचरा व अपशब्दों का प्रयोग करने पर जिला व शहर कांग्रेस कमेटी ने सांकेतिक रूप से धरना प्रदर्शन करने के लिए विधिवत सूचना जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन को दी थी। पुलिस ने राजेंद्र नगर चौक पर बेरिकेडिंग की थी। शांतिपूर्वक धरना प्रदर्शन खत्म हुआ और कांग्रेसजन कांग्रेस भवन चले गए। राजेंद्र नगर चौक से कांग्रेस भवन की दूरी लगभग एक किमी की दूरी पर है। कांग्रेस भवन में विधानसभा चुनाव की तैयारी बैठक हो रही थी। प्रदर्शन के एक घंटे बाद पुलिस ने कांग्रेस भवन को छावनी बना दिया। भवन को पुलिस वालों ने अधिक तादाद में घेर लिया। गिरफ्तारी के लिए बसें थी। कांग्रेस भवन से नहीं निकल सकते थे इसलिए कांग्रेसजन भजन कीर्तन करने लगे। पुलिस भवन के अंदर आकर ताबड़तोड़ लाठियां बरसाने लगी।

एएसपी चंद्राकर अब तक नहीं आए

लाठीचार्ज मामले में अब तक एएसपी रहे नीरज चंद्राकर बयान देने नहीं आए हैं। वहीं 20 फरवरी को आरक्षक नितिन उपाध्याय को बयान के लिए बुलाया गया है। चंद्राकर को फिर से समंस भेजकर बयान के लिए बुलाया जाएगा। बता दें कि कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष केशरवानी ने मुख्यमंत्री से शिकायत कर पांच बिंदू जांच में जोड़ने की मांग कलेक्टर से की थी। इसमें से दो बिंदू जांच में जोड़ा गया है।

X
Bilaspur News - chhattisgarh news lathicharge case head constable said congressmen were giving abusive language keeshwarwani said police had ransacked the lathis
COMMENT