16 गांवों को जोड़ने वाली मंगला भैंसाझार सड़क इसी माह से बनेगी

Bilaspur News - मंगला से भैंसाझार की 25 किलोमीटर की एक अरब से बनने वाली एडीबी (एशियन डेवलपमेंट बैंक) की सड़क का काम इस माह से शुरू हो...

Nov 11, 2019, 06:47 AM IST
मंगला से भैंसाझार की 25 किलोमीटर की एक अरब से बनने वाली एडीबी (एशियन डेवलपमेंट बैंक) की सड़क का काम इस माह से शुरू हो जाएगा। फिलहाल इस सड़क का सर्वे हो रहा है। सर्वे के बाद मुआवजे के मामले आदि निपटाए जाएंगे। एडीबी की यह सड़क बिलासपुर और रतनपुर मार्ग के 16 गांवों को जोड़ेगी। इस सड़क के बनने से ग्रामीण इलाकों के लोगों को शहर आने में समय की बचत होगी।

एडीबी की 1.11 अरब की राशि से बनने वाली मंगला-भैंसाझार सड़क का वर्कआर्डर जारी होने में देरी हुई। पहले विधानसभा चुनाव और फिर लोकसभा चुनाव में आचार संहिता की वजह से काम अटका रहा। सड़क बनने के बाद शहर से इन गांवों की कनेक्टिविटी सीधे तौर पर हो जाएगी। हालांकि लोकसभा चुनाव के बाद जल्द ही वर्कआर्डर जारी होने की उम्मीद की जा रही थी लेकिन कई कारणों से काम शुरू नहीं हो सका था। इस सड़क निर्माण का काम अग्रवाल इंफ्राबिल्ड को मिला है। मंगला चौक से भैंसाझार तक बनने वाली यह सड़क दो लेन की होगी। यह सड़क मंगला, धुरीपारा, लोखंडी, तुर्काडीह, निरतू, घुटकू, भाड़म, लमेर,गोबंद, लारीपारा, खरगहना, खरगहनी, पिपरपारा, छेरकाबांधा, उमरमरा और भैंसाझार से होकर गुजरेगी। एडीबी के ईई अजय कुमार दीवान ने बताया कि सड़क निर्माण के लिए 1100 पेड़ काटने की अनुमति जल्द ही वन से मिल जाएगी। इस सड़क के बन जाने से लोगों को कटघोरा रतनपुर या बिलासपुर तक जाने में आसानी होगी। वहीं किसानों को मंडी तक धान ले जाने में आसानी होगी। कटघोरा पाली के लिए एक और वैकल्पिक मार्ग लोगों को मिल जाने से आसानी होगी।

सड़क के बनने से ग्रामीण इलाकों के लोगों को शहर आने में राहत होगी। साथ ही समय भी बचेगा।

रतनपुर-पाली के लिए होगा अतिरिक्त विकल्प

इस सड़क के बनने से लंबे समय से इंतजार किया जा रहा है। रतनपुर, पाली मार्ग पर जाने के लिए यह मार्ग अतिरिक्त विकल्प के तौर पर तैयार होगा। वर्तमान में बिलासपुर-रतनपुर ही एकमात्र विकल्प है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना