45 डिग्री पहुंचा पारा, तीन दिन 440 रहने का अनुमान

Bilaspur News - ज्योतिष विज्ञान के मुताबिक 25 मई से नौतपा है। इस दौरान मौसम कैसा रहेगा, इसे लेकर अभी से चर्चा शुरू हो गई है। पिछले साल...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 06:35 AM IST
Bilaspur News - chhattisgarh news mercury reach 45 degrees estimated to be 440 for three days
ज्योतिष विज्ञान के मुताबिक 25 मई से नौतपा है। इस दौरान मौसम कैसा रहेगा, इसे लेकर अभी से चर्चा शुरू हो गई है। पिछले साल या उसके पहले के वर्षों में भी नौतपा में बारिश होती रही है। हालांकि इस बार बारिश होगी या नहीं, इसे लेकर मौसम विभाग ने कोई अनुमान जारी नहीं किया है। नौतपा के पहले ही शहर का तापमान 45 डिग्री के करीब पहुंच गया है।

एक बार फिर मौसम के तेवर और तीखे हो गए। सुबह आठ बजे ही दोपहर जैसा अहसास हुआ तो दोपहर में तो लोगों की जुबान पर गर्मी ने ताला लगा दिया। ऐसी भीषण गर्मी की लोगों ने कल्पना भी नहीं की थी। बीच में बादलों से मौसम से राहत मिली पर बादलों के गायब होते ही फिर से सूरज ने आग बरसाना शुरू कर दिया। गर्म हवा चलने की वजह से लोग झुलसकर रह गए। दोपहर में चार से पांच घंटे सूरज की तपिश लोग बर्दाश्त नहीं कर पा रहे थे। गर्मी से बचने के लिए तरह-तरह के इंतजाम भी किए गए इसके बावजूद गर्मी से राहत नहीं मिली। पेड़ों की छांव, जूस, शरबत और छतरियां भी गर्मी से छुटकारा नहीं दिला सके। दोपहर में सूरज तीखी किरणें बरसाता रहा और शहर का अधिकतम तापमान 44.6 डिग्री पर पहुंच गया। इससे पहले दो दिनों तक पारा 44 डिग्री दर्ज हुआ था। शाम को गर्मी से कुछ हद तक राहत मिली लेकिन वातावरण में उमस महसूस की गई। मौसम विभाग ने 18 मई को आसमान पर बादल छाने और तापमान 44 डिग्री रहने का अनुमान है। 18 से 21 मई तक 44 डिग्री, 22 व 23 मई को अधिकतम तापमान 45 डिग्री रहने का अनुमान है। रात का तापमान 27 व 28 डिग्री रहने का अनुमान है।

नौतपा में बारिश से महिला की हुई थी मौत

2017 में नाैतपा के तीसरे दिन तेज आंधी बारिश से एक मकान के ढह जाने से ग्राम लोहारी के चलचलीपारा की तेरहनिया बाई की मौत हो गई थी। उसकी भतीजी पूजा घायल हो गई थी। घटना उस समय हुई जब तेरहनिया बाई और उसकी भतीजी खेत से लौट रहे थे। अचानक तेज आंधी बारिश शुरू हो गई। वे एक मकान के पास चले गए। मकान की दीवार गिर गई और दबने से तेरहनिया की मौत हो गई।

मनाली रोड पर लैंडस्लाइड होने से फंसे शहरवासी

कुल्लु मनाली रोड पर शुक्रवार को दोपहर तीन बजे लैंडस्लाइड होने की वजह से पर्यटक फंस गए। इसमें बिलासपुर के दुसेजा परिवार के लोग भी हैं। राजेश दुसेजा ने बताया कि दोपहर में अचानक लैंडस्लाइड होने की वजह से करीब 300 गाड़ियां फंस गई है। वे समुद्रतल से 12 हजार फीट की ऊंचाई पर फंसे है। रोड साफ करने की दिशा में कोई कदम नहीं उठाया गया है। दुसेजा ने बताया कि मौसम खराब होने के कारण ऐसा हुआ है। समाचार लिखे जाने तक रात तक वहां राहत के कोई इंतजाम नहीं किए गए। दुसेजा ने वहां से फोटो भी शेयर किए हैं।

X
Bilaspur News - chhattisgarh news mercury reach 45 degrees estimated to be 440 for three days
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना