पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Bilaspur News Chhattisgarh News No Need Of Free Meditation Will Be Given By Dhrupad Singing Stress Sagar

ध्रुपद गाने वाला तनाव से रहेगा मुक्त मेडिटेशन की जरूरत नहीं पड़ेगी: सागर

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ध्रुपद गाने वाले को मेडिटेशन की जरूरत नहीं पड़ती। जहां ध्रुपद गाया जाता है, वह जगह अपने आप मंदिर हो जाती है। ध्रुपद भगवान कृष्ण व शिव को समर्पित संगीत की आध्यात्मिक विधा है, जिससे तनाव व दौड़-धूप भरी जिंदगी में शांति मिलती है। उक्त बातें बावरा मन के संगीत जलसा कार्यक्रम में आए कोलकाता के आईटीसी की संगीत रिसर्च अकादमी में रेसिडेंट म्युजिशियन स्कालर ध्रुपद गायक सागर मोरानकर ने कही। ये रोटरी इंटरनेशनल द्वारा प्रोमिसिंग हिंदुस्तानी म्युजिशियन अवार्ड से नवाजे जा चुके हैं।

उन्होंने बताया कि ध्रुपद गायकी संगीत की सबसे प्राचीन व कठिन विधा मानी जाती है। इसके बाद ख्याल, टप्पा, ठुमरी व सुगम संगीत आए। ध्रुपद गायन को स्थायी, अंतरा, संचारी व आभोग नाम के चार भागों में बांटा गया है। इसमें स्वर ठहरे हुए होते हैं, जिससे रागों की शुद्धता कायम रहती है। आज का ध्रुपद आलाप प्रधान हो गया है। एक घंटे के ध्रुपद में 40 मिनट तो अलाप के होते हैं। इसमें लयकारी का सबसे बड़ा महत्व होता है। लयकारी सबसे कठिन है, इसी में ध्रुपद का मजा भी है। ध्रुपद गायक सागर ने बताया कि ब्लाइंड स्कूल की तीसरी कक्षा में पढ़ रहे थे, उस समय 88 बच्चें ने मिलकर एक नाटक की प्रस्तुति दी। वह नाटक देश में छा गया। गिनीज बुक में भी आया। इसके बाद स्कूल में आकर गुरु जी ने संगीत में इच्छा रखने वाले छात्रों की परीक्षा लेकर चयनित किया। इसके बाद उनके पास संगीत सीखने जाने लगे। सागर उस्ताद जिया फ़रिउद्दीन डागर के शागिर्द पं. उदय भवालकर से शिक्षा ले रहे हैं। 10वीं के बाद उनके पास रहकर शिक्षा ले रहे हैं।

तुम बिन कौन मेरा, तु जो सहाय...पर झूमे श्रोता
बावरा मन द्वारा आयोजित संगीत जलसा का कार्यक्रम सीएमडी कॉलेज के ऑडिटोरियम में हुआ। बावरा मन के अध्यक्ष पी. रामाराव, सचिव राजेश दुआ, पं. संजय दुबे ने कार्यक्रम की शुरुआत की। सरस्वती वंदना श्रुति ने किया। ध्रुपद गायक सागर का पखावच पर कृष्ण शांलु, तानपुरी पर रितिक पाल ने संगत की। ध्रुपद गायक सागर ने सबसे पहले रागपतदीप की प्रस्तुति दी। चौताल एरी सखी सावन आया... था। फिर कलावटी में सूलताल में तुम बिन कौन मेरा..., दुर्गा राग की प्रस्तुति दी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें