अब यूजीसी से मान्यता लेंगे कॉलेज, तभी दे पाएंगे एडमिशन

Bilaspur News - एजुकेशन रिपोर्टर | बिलासपुर विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने कॉलेजों के संबंध में अहम फैसला लिया है। अब सभी...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 06:41 AM IST
Bilaspur News - chhattisgarh news now colleges will get recognition from ugc only then they will be able to give admission
एजुकेशन रिपोर्टर | बिलासपुर

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने कॉलेजों के संबंध में अहम फैसला लिया है। अब सभी कॉलेजों को 2 एफ व 12बी की मान्यता यूजीसी से लेनी होगी। यूजीसी के अनुसार 180 दिन के भीतर सभी सरकारी, अनुदान प्राप्त और निजी कॉलेजों को अपनी क्षमता के अनुसार यूजीसी से 2एफ या 12बी में पंजीयन के लिए आवेदन करना होगा। 180 दिन की अवधि खत्म होने के बाद 90 दिन के भीतर यूजीसी के निर्देश पर संबंधित यूनिवर्सिटी के विशेषज्ञों की टीम इन कॉलेजों में निरीक्षण करेगी। जो कॉलेज जिस कैटेगरी के लिए आवेदन करेगा, उसे उसके लिए मापदंड परखे जाएंगे। यूनिवर्सिटी की टीम यह भी देखेगी कि कॉलेज के पास जो अस्थायी या स्थायी मान्यता है, उसके मापदंड के अनुसार पर्याप्त सुविधाएं हैं या नहीं। यूनिवर्सिटी रिपोर्ट बनाकर यूजीसी को भेजेगी जिसके आधार पर यूजीसी कॉलेज को 2एफ या 12बी में पंजीयन करेगा। कॉलेजों को यूजीसी की सीधी मान्यता मिल जाएगी। अगर ये कॉलेज यूजीसी में पंजीयन नहीं कराते हैं, तो वे नए सत्र से एडमिशन नहीं दे पाएंगे। जबकि अटल यूनिवर्सिटी अभी तक खुद ही 2एफ और 12बी की मान्यता नहीं ले पाई है। यूजीसी को भेजने के लिए यूनिवर्सिटी दस्तावेज तैयार कर रही है। यूनिवर्सिटी को रिपोर्ट पूरी पारदर्शिता से तैयार कर भेजना होगी। रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो कॉलेज को रजिस्ट्रेशन और मान्यता मिल जाएगी। निगेटिव रही तो कॉलेज 2020 में एडमिशन नहीं दे सकेगा। जो छात्र पहले से पढ़ रहे हैं, केवल वे ही कोर्स पूरा कर सकेंगे। यूनिवर्सिटी को ऐसे कॉलेजों की नई संबद्धता भी तुरंत निरस्त करना पड़ेगी।

मापदंड : 2 एफ में अनुदान नहीं मिलेगा, 12बी में मिलेगा

जो कॉलेज 2एफ में पंजीयन करवाकर लेंगे, उन्हें यूजीसी की कोई ग्रांट नहीं मिल पाएगी।, जो 12बी में रजिस्टर्ड होंगे, उन्हें न केवल यूजीसी बल्कि केंद्र सरकार के किसी भी विभाग से ग्रांट मिल सकेगी। कॉलेज स्थायी मान्यता होने की स्थिति में 12बी के लिए भी आवेदन कर सकेंगे।

कॉलेजों में बढ़ेगी सुविधा, प्लेसमेंट पर होगा फोकस : रजिस्ट्रेशन के लिए होने वाले निरीक्षण से पहले कॉलेजों को हर जरूरी सुविधा जुटाना होगी। यूजीसी एक्ट 1956 की धारा 2एफ के अंतर्गत देशभर के किसी भी कॉलेज को मान्यता दी जाती है और उसका रजिस्ट्रेशन होता है। वहीं, धारा 12बी में रजिस्टर्ड कॉलेज को केंद्रीय अनुदान की पात्रता हो जाती है। यानी, वह यूजीसी या किसी भी केंद्रीय विभाग से ग्रांट के लिए पात्र हो जाता है। कॉलेजों को तय संख्या में फैकल्टी की नियुक्ति करना होगी। छात्रों की संख्या के मुताबिक पर्याप्त क्लास रूम तैयार करना होंगे। लैब, लाइब्रेरी और कम्प्यूटर लैब तैयार करना होगी।

187 में से सिर्फ 33 कॉलेजों ने ली है मान्यता

एयू के 187 कॉलेजों में 83 फीसदी कॉलेजों ने न ताे 2एफ और न 12बी के लिए पंजीयन करवाया। 187 काॅलेज में 2 लाख छात्र अध्ययनरत हैं। 187 कॉलेजों में से केवल 33 कॉलेजों ने 2एफ और 12बी के लिए मान्यता कराई है। इसमें 6 ए ग्रेड, 2 बीए प्लस प्लस और 25 बी ग्रेड कॉलेज है।

कमियां दूर की जा रही हैं

अटल यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो. जीडी शर्मा ने कहा कि यूनिवर्सिटी 2एफ और 12बी की मान्यता के लिए तैयारी कर रही है। यूजीसी के निर्देश के बाद सभी कॉलेजों को इसकी तैयारी के लिए कहा गया है।

X
Bilaspur News - chhattisgarh news now colleges will get recognition from ugc only then they will be able to give admission
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना