जलेंगे आस्था के अखंड दीप, चंडी यज्ञ, कालसर्प दोष के निवारण के लिए विशेष अनुष्ठान

Bilaspur News - रतनपुर के भैरव बाबा मंदिर में शारदीय नवरात्रि की तैयारियां प्रारम्भ हो गई है। इस बार 29 सितंबर से 7 अक्टूबर तक...

Bhaskar News Network

Sep 13, 2019, 07:50 AM IST
Ratanpur News - chhattisgarh news special rituals for prevention of unbroken lamp chandi yajna kalsarp dosha
रतनपुर के भैरव बाबा मंदिर में शारदीय नवरात्रि की तैयारियां प्रारम्भ हो गई है। इस बार 29 सितंबर से 7 अक्टूबर तक आयोजित नौ दिवसीय नवरात्र के अनुष्ठानिक महोत्सव के दौरान मंदिर परिसर में चंडी यज्ञ एवं काल सर्प दोष के निवारण के लिए विशेष अनुष्ठान के साथ अखंड दीप प्रज्ज्वलित होंगे।

नगर के प्रवेश द्वार में स्थित भैरव बाबा मंदिर में शारदीय नवरात्र की तैयारियां जोर शोर से की जा रही है। आगामी 29 सितंबर से 7 अक्टूबर तक अर्थात नौ दिनों तक चलने वाले इस अनुष्ठानिक पर्व के लिए मंदिर परिसर स्थित ज्योति कलश कक्ष यज्ञकुंड शनिदेव स्थल सहित उनके दीवारों को आकर्षक ढंग से बंदनवार तोरण एवं बिजली के आकर्षक झालरों से सजाया और संवारा जा रहा है। मंदिर के प्रबंधक एवं मुख्य पुजारी पं. जागेश्वर अवस्थी ने बताया कि नगर के कोतवाल तंत्र अधिष्ठाता भगवान भैरव नाथ के मंदिर में शारदीय नवरात्र के प्रथम दिवस कलश यात्रा पंचांग पूजन मंडप पूजन अखंड दीप प्रज्ज्वलन एवं घट स्थापना के साथ कार्यक्रम शुरू होगा। उसके बाद नौ दिनों तक अनवरत प्रतिदिन आवाहित एवं स्थापित समस्त देवी देवताओं का अग्नि प्रज्ज्वलित कर पूजन और हवन होगा। इसी तरह मंदिर में नवरात्र पर्व पर प्रतिदिन भगवान भैरव नाथ की प्रातः आरती एवं रात्रि में चालीसा का पाठ होगा। इस दौरान नवरात्रि पर्व में दर्शनार्थियों की सुविधा को देखते हुए मंदिर के पट सुबह 6 बजे से रात्रि 12 बजे तक खुले रहेंगे। नवरात्र की तैयारियों में मंदिर प्रबंधन से जुड़े पं. दिलीप दुबे, विक्की अवस्थी, सोनू तम्बोली, राजेन्द्र दुबे जोर शोर से तैयारी करने में जुटे हुए हैं।

शतचंडी यज्ञ के साथ अखंड दीप होंगें प्रज्ज्वलित

शारदीय नवरात्र के दौरान मंदिर परिसर में स्थित यज्ञ कुंड में यज्ञाचार्य पं. गिरधारी लाल शास्त्री एवं उनके अन्य 11 सहयोगी आचार्यों की अगुआई में वैदिक रीति से चंडी यज्ञ होगा। साथ ही कालसर्प दोष के निवारण के लिए विशेष अनुष्ठान के साथ अखंड दीप प्रज्ज्वलन व श्री काल भैरव मंत्र का जाप कर प्रतिदिन हवन पूजन किया जाएगा। वहीं मंदिर में नवरात्र में रोज भंडारा होगा और श्रद्धालुओं के लिए रुकने का इंतजाम होगा।

X
Ratanpur News - chhattisgarh news special rituals for prevention of unbroken lamp chandi yajna kalsarp dosha
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना