• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • Bilaspur News chhattisgarh news the corporation39s 3 ee was transferred to korba minister jaysingh bole former minister had taken forcibly

निगम के 3 ईई का कोरबा तबादला, मंत्री जयसिंह बोले पूर्व मंत्री जबरिया ले गए थे..

Bilaspur News - नगर निगम में फिर एक कार्यपालन अभियंता का स्थानांतरण कर दिया गया है। नई सरकार ने पिछले 10 दिनों में निगम के तीन...

Bhaskar News Network

Jan 14, 2019, 03:21 AM IST
Bilaspur News - chhattisgarh news the corporation39s 3 ee was transferred to korba minister jaysingh bole former minister had taken forcibly
नगर निगम में फिर एक कार्यपालन अभियंता का स्थानांतरण कर दिया गया है। नई सरकार ने पिछले 10 दिनों में निगम के तीन कार्यपालन अभियंताओं का तबादला कोरबा नगर निगम कर दिया है। एक दिन पहले खुद को बिलासपुर का मंत्री कहने वाले राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल का कहना है कि तीनों ईई कोरबा नगर निगम में पदस्थ थे और तत्कालीन मंत्री अमर अग्रवाल उन्हें जबरिया बिलासपुर ले गए थे। कोरबा नगर निगम की मेयर रेणु अग्रवाल ने उन्हें वापस लौटाने नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया से आग्रह किया था, जिसके अनुसार उनकी घर वापसी हुई है। उन्होंने आरोप लगाया कि अमर अग्रवाल ने मंत्री रहते पांच ईई का विभिन्न शहरों में तबादला किया था, जिन्हें अब वापस उनके निकायों में स्थानांतरित किया जा रहा है। बता दें कि सीवेज सेल के प्रभारी एवं कार्यपालन अभियंता मनोरंजन सरकार की कोरबा पदस्थापना का आदेश विगत दिवस जारी किया गया। इससे पहले ईई अरुण शर्मा और आरके चौबे का कोरबा तबादला हो चुका है। इनके स्थान पर सीवेज सेल का चार्ज एई सुरेश बरुवा को दिया गया है।

इनको मिला ईई का प्रभार

नगर निगम कमिश्नर सौमिलरंजन चौबे ने चार असिस्टेंट इंजीनियरों को प्रभारी कार्यपालन अभियंता के रूप में विभिन्न विभाग तथा जोन का दायित्व सौंपा है। मनोरंजन सरकार के स्थान पर जोन क्रमांक 3 के कमिश्नर के पद पर एई प्रवीण शुक्ला को ईई का प्रभार दिया गया है। इसी प्रकार अनुपम तिवारी को वाहन शाखा, साइंस कालेज मैदान, राजकिशोर नगर, सेंट्रल लाइब्रेरी, अजय श्रीवासन को पेट्रोल पंप का प्रभार, सुरेश बरुआ को सीवेज सेल का प्रभार दिया गया है।

X
Bilaspur News - chhattisgarh news the corporation39s 3 ee was transferred to korba minister jaysingh bole former minister had taken forcibly
COMMENT