पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • Bilaspur News Chhattisgarh News The Girl Who Reached The Sp About The Wounded Lamb Said 39the Neighbor Has Broken The Shank We Beat Us Leaving The House Of Such A Horror And Staying Outside

घायल मेमने को लेकर एसपी के पास पहुंची बच्ची, कहा-पड़ोसी ने तोड़ दी है टांग, हमें भी पीटा, दहशत इतनी की घर छोड़कर बाहर रह रहे

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पड़ोसी के आतंक से बच्ची का पूरा परिवार दहशत में हैं। सोमवार की रात कुछ लाेग दरवाजा ताेड़कर घर में घुस गए औैर सभी से मारपीट की। उन्होंने बकरी को मार डाला और उसके बच्चे की टांग तोड़ दी। मंगलवार को घायल बकरी के बच्चे को गोद में लेकर बच्ची अपनी मां के साथ एसपी के पास मिलने पहुंची थी। उसने आवेदन देकर सुरक्षा की गुहार लगाई है। घटना बिलासपुर जिला मुख्यालय से 30 किलोमीटर दूर नगर पंचायत कोटा की है। यहां गड्‌ढापारा वार्ड क्रमांक एक में 14 वर्षीय बच्ची इफायत पिता इशार अली का मकान है। उसके घर के पास ही लैला, लल्लू मंदाकनी, अमीर खान, जफर खान, राबिया रहते हैं। ये लोग आए दिन किसी न किसी बात को लेकर बच्ची के परिवार के साथ विवाद कर मारपीट करते हैं। सोमवार की रात को बच्ची अपने मां व भाई व पिता इशार के साथ घर पर थी। करीब 9 बजे लैला व अन्य बच्ची के घर का दरवाजा तोड़कर भीतर घुस गए और मारपीट शुरू कर दी। उन्होंने बच्ची के भाई इरफान की हाथ की उंगली तोड़ दी। बकरी के बच्चे पर भी हमला कर दिया। इससे उसका एक पैर टूट गया। जबकि बकरी के सिर पर पत्थर पटक देने से उसकी मौत हो गई। बच्ची के अनुसार पड़ोसियों ने उनके मां- बाप का गला दबाकर मारने की भी कोशिश की। मंगलवार को बच्ची एसपी आफिस पहुंची। वह अपने गोद में घायल बकरी का बच्चा उठाकर लाई थी। साथ में उसकी मां भी थी। उसने एसपी को आवेदन दिया। इसमें बताया है कि उनका परिवार पड़ोसी के आतंक से डरा हुआ है। वह लोग घर पर नहीं रह पा रहे हैं। उन्हें जान का खतरा है। कभी कोई भी अप्रिय घटना घट सकती है। उसने यह भी बताया कि उनका परिवार इस संबंध में कई बार कोटा थाने गया पर पुलिस ने उनकी रिपोर्ट दर्ज नहीं की, बल्कि उलटा उसके पिता को ही दिनभर लॉकअप में बंद कर रखा। एसपी ने उन्हें कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। इस संबंध में एसपी प्रशांत अग्रवाल का कहना है कि उन्हें बच्ची का आवेदन मिला है। उन्होंने संबंधित थाना प्रभारी को इस संबंध में जांच कर तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

नेहरू चौक से गोद में उठाकर बकरी के बच्चे को लेकर मां के साथ आई तो लोग देर से समझ पाए माजरा
खबरें और भी हैं...