टीम ने कहा- फसल की बीमारियों पर शोध करने की आवश्यकता

Bilaspur News - एजुकेशन रिपोर्टर | बिलासपुर बैरिस्टर ठाकुर छेदीलाल कृषि कॉलेज व अनुसंधान केंद्र के शोध और शोध परियोजनाओं के...

Nov 21, 2019, 06:27 AM IST
एजुकेशन रिपोर्टर | बिलासपुर

बैरिस्टर ठाकुर छेदीलाल कृषि कॉलेज व अनुसंधान केंद्र के शोध और शोध परियोजनाओं के मूल्यांकन की जांच करने 4 सदस्यीय टीम पहंुची। कॉलेज के अधिष्ठाता डॉ. आरकेएस तिवारी ने टीम को निरीक्षण कराया। टीम के सदस्यों ने फसलों को देखकर कहा कि इसमें लगने वाली बीमारियों के कारण का पता करना चाहिए और उसे कैसे रोका जा सकता है, उस पर शोध की आवश्यकता है। साथ ही ये शोध करें कि कौन से किस्म की फसल में बीमारी और कीड़े कम लग रहे हैं।

टीम में इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय रायपुर के पौध प्रजनन विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. एके सरावगी के नेतृत्व में विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. केएल नन्देहा, एडीआर डॉ. विवेक कुमार त्रिपाठी व कृषि वैज्ञानिक डॉ. दीपक गौरहा ने काॅलेज के प्रयोगशालाओं प्रक्षेत्र में डाले गए प्रयोगों का अवलोकन व निरीक्षण किया। टीम के सदस्यों ने कॉलेज में 8 एकड़ में लगी अरहर और एक एकड़ में अर्जुन के पौधे के उत्पादन को देखा। सदस्यों ने कहा कि आने वाले समय में कृषि कॉलेज में रेशम उत्पादन होगा। टीम के सदस्यों ने धान, कुल्थी, अरहर व गेहूं फसलों पर किए जा रहे शोध कार्य को देखा। उद्यानिकी के अंतर्गत बगीचे व नई पौधशाला का भी निरीक्षण कर संतोष जाहिर किया। टीम के निरीक्षण, मूल्यांकन के अवसर पर कृषि महाविद्यालय व अनुसंधान केंद्र तथा कृषि विज्ञान केंद्र के सभी प्राध्यापक, वैज्ञानिक व विषय-वस्तु विशेषज्ञ उपस्थित थे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना