इस माह इंटर्नशिप पूरी कर रहे छात्र बनेंगे जूनियर डॉक्टर

Bilaspur News - महामारी के रूप में सामने आया काेरोना वायरस को लेकर सरकार ने प्रभावी कदम उठाना शुरू कर दिए हैं। यह वायरस अपने पैर...

Mar 27, 2020, 06:41 AM IST

महामारी के रूप में सामने आया काेरोना वायरस को लेकर सरकार ने प्रभावी कदम उठाना शुरू कर दिए हैं। यह वायरस अपने पैर ज्यादा न पसार सके इसके लिए व्यवस्थाएं करना प्रारंभ कर दी गई हैं। संचालक चिकित्सा शिक्षा द्वारा गुरुवार को एक आदेश जारी किया है। यह आदेश राज्य के सभी सरकारी व प्राइवेट मेडिकल कॉलेज के डीन के लिए हैं। इसमें डीन को विशेष अधिकारी देते हुए निर्देश दिए गए हैं कि उनके यहां जो इंटर्नशिप कर रहे हैं और उनकी यह इंटर्नशिप मार्च 2020 में पूरी हो रही है उन सबको जूनियर रेसीडेंट डॉक्टर के पद पर नियुक्त कर दिया जाए, फिर चाहे पद हों या न हों।

ज्यादा डॉक्टरों की जरूरत होगी


आदेश में हवाला दिया गया है कि कोरोना वायरस को लेकर आगामी समय में ज्यादा से ज्यादा डॉक्टरों की जरूरत होगी। राज्य में डॉक्टरों की कमी है। इसलिए जो इंटर्नशिप पूरी कर लें उन्हें तुरंत जूनियर रेसीडेंट डॉक्टर के पद पर नियुक्त कर दिया जाए। इस नियुक्ति के लिए अधिष्ठाता को किसी सरकारी प्रक्रिया में भी उलझने की जरूरत नहीं है और वह अपने स्तर पर ही नियुक्त कर सकते हैं। सिम्स में मार्च 2020 में 128 की इंटर्नशिप पूरी हो रही है।

दूसरी जगह नहीं दे पाएंगे सेवा : चिकित्सा प्रणाली दो में विभक्त है। एक चिकित्सा शिक्षा तथा दूसरी चिकित्सा सेवा। यह आदेश संचालक चिकित्सा शिक्षा द्वारा जारी किया गया है। इसलिए इंटर्नशिप पूरी करने वालों को मेडिकल कॉलेज में ही नियुक्ति दी जाएगी।

हां आदेश मिल चुका है : संचालक चिकित्सा शिक्षा का यह आदेश मिल चुका है। कोरोना वायरस के हमले को देखते हुए हम डॉक्टरों की नियुक्ति में उचित कदम जल्द उठाएंगे। मार्च के बाद ही तय होगा कि क्या करना है?
डा. पीके पात्रा, डीन, सिम्स

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना