जीवन में तीन सूत्र नो अार्ग्यूमेंट, नो ऑब्जेक्शन नो एडवाइज अपनाना जरूरी : धीर गुरुदेव

Bilaspur News - श्री दशाश्रीमाली स्थानकवासी जैन संघ टिकरापारा के तत्वावधान में जैन उपाश्रय में मुंबई से कोलकाता चातुर्मास...

Feb 22, 2020, 06:45 AM IST
Bilaspur News - chhattisgarh news three threads in life no argument no objection no advice is necessary dhir gurudev

श्री दशाश्रीमाली स्थानकवासी जैन संघ टिकरापारा के तत्वावधान में जैन उपाश्रय में मुंबई से कोलकाता चातुर्मास पधारने वाले गोंडल संप्रदाय के जैन मुनि पूज्य धीर गुरुदेव का प्रथम बार पदार्पण प्रसंग पर समाज के श्रावक-श्राविकाओं ने उत्साह से स्वागत किया। प्रवचन में उन्होंने कहा कि जीवन को सफल बनाना हो तो नो अार्ग्यूमेंट, नो ऑब्जेक्शन एवं नो एडवाइज यह तीन सूत्र अपनाना जरूरी। नो अार्ग्यूमेंट अर्थात बात-बात में दलीलबाजी मत करना, नो ऑब्जेक्शन अर्थात हर बात में विरोध करना अच्छा नहीं है। नो एडवाइस अर्थात बिना मांगे सलाह मत दिया करो अगर सलाह दे दी तो फल की आशा मत रखना क्योंकि पुण्य के उदय बिना कोई सलाह मानने वाला भी नहीं है। संत के आगमन पर शिव टॉकीज चौक से जैन उपाश्रय तक रास्ते भर जयकारा एवं महावीर के उपदेशों के नारों के साथ स्वागत हुआ। महिलाओं ने कलश यात्रा निकालकर मुनिश्री का आशीर्वाद प्राप्त किया। इस अवसर पर हंसमुख कोठारी, गुलाब तेजाणी, गोपाल वेलाणी, राजू तेजाणी, किशोर देसाई, शैलेश, तेजाणी, प्रवीण दामाणी, दिलीप तेजाणी, हेमा तेजाणी, मनु मिठाणी, नरेंद्र तेजाणी, खुशाल तेजाणी, लता देसाई, रश्मि तेजाणी, पारुल सुतारिया, उर्मिला तेजाणी, हेमंत सेठ, कीर्ति सुतारिया, विनोद जैन, अमरेश जैन सहित सकल जैन समाज के लोग उपस्थित रहे।

X
Bilaspur News - chhattisgarh news three threads in life no argument no objection no advice is necessary dhir gurudev

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना