रैक नहीं होने से स्पेशल ट्रेनें घंटों देरी से चल रहीं, सीटें भी खाली

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 06:35 AM IST

Bilaspur News - स्पेशल के नाम से चल रही ट्रेनों की हालत खराब है। घंटों विलंब से चलने की वजह से इन ट्रेनों में कोई सफर ही नहीं करना...

Bilaspur News - chhattisgarh news with no rack special trains are running late for hours seats are also empty
स्पेशल के नाम से चल रही ट्रेनों की हालत खराब है। घंटों विलंब से चलने की वजह से इन ट्रेनों में कोई सफर ही नहीं करना चाह रहा है। इन ट्रेनों में सीट खाली है। हालांकि बिलासपुर से इन ट्रेनों में यात्री भी कम चढ़ते हैं। रेलवे का सिस्टम बता रहा है कि 15 जून के बाद ट्रेनें खाली हो जाएंगी। तब तक के लिए अलग-अलग जोन से अतिरिक्त कोच की व्यवस्था ट्रेनों में की जा रही है।

छत्रपति शिवाजी टर्मिनल शालीमार, शालीमार-जयपुर, सिकंदराबाद-बरौनी, हैदराबाद-रक्सौल, सिकंदराबाद-दरभंगा एवं हबीबगंज-पुरी स्टेशनों के बीच चल रही स्पेशल ट्रेन की हालत यह है कि इसके लिए सिर्फ एक ही रैक है। उसी रैक को एक-दूसरे स्थान पर पहुंचने के बाद वापस चलाया जाता है। इस वजह से सिकंदराबाद-बरौनी, सिकंदारबाद- रक्सौल, सिकंदराबाद-दरभंगा के बीच चलने वाली ट्रेनें घंटों विलंब से चलती हैं। यह ट्रेन अपने निर्धारित दिवस पर अप साइड से 10 से 12 घंटे और डाउन साइड से 6 से 8 घंटे विलंब से आती हैं। इसी वजह से इन ट्रेनों में कोई सफर भी नहीं करना चाहता है। वहीं दूसरी ओर जिन ट्रेनों में लंबी वेटिंग लिस्ट है उनके लिए रेलवे द्वारा अतिरिक्त कोच की व्यवस्था की जा रही है। इसी कड़ी में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे द्वारा ट्रेनों में अतिरिक्त कोच लगाए जा रहे हैं। इस तरह मार्च से जुलाई तक कुल 732 अतिरिक्त कोच लगाए जाएंगे। साथ ही ज्यादा भीड़-भाड़ वाले रूटों में छत्रपति शिवाजी टर्मिनल शालीमार, शालीमार-जयपुर, सिकंदराबाद- बरौनी, हैदराबाद-रक्सौल, सिकंदराबाद- दरभंगा एवं हबीबगंज-पुरी स्टेशनों के बीच मार्च से जून-जुलाई महीने तक 236 फेरों के लिए स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही हैं। इन स्पेशल ट्रेनों से दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के रायगढ़-बिलासपुर-रायपुर-दुर्ग-गोंदिया-नागपुर रेल रूट के साथ ही साथ बिलासपुर-पेंड्रारोड-अनुपपुर-शहडोल-कटनी रूट के रेल यात्रियों को सुविधा मिल रही है।

लंबी दूरी के स्टापेज, इसलिए नहीं चढ़ते चात्री

छत्रपति शिवाजी टर्मिनल शालीमार, शालीमार-जयपुर, सिकंदराबाद-बरौनी, हैदराबाद-रक्सौल, सिकंदराबाद-दरभंगा एवं हबीबगंज-पुरी स्टेशनों के बीच चलने वाली स्पेशल ट्रेनों का स्टापेज लंबी-लंबी दूरी का होने के कारण आम यात्री इन ट्रेनों में सफर नहीं करता है। जिन्हें लंबी दूरी तक जाना होता है वे ही इसमें सफर करते हैं लेकिन ऐसे यात्रियों की संख्या कम है।

X
Bilaspur News - chhattisgarh news with no rack special trains are running late for hours seats are also empty
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543