--Advertisement--

आरोप / बिलासपुर कलेक्टर के खिलाफ चुनाव आयोग ने शुरू की जांच



डमी फोटो डमी फोटो
X
डमी फोटोडमी फोटो
  • चुनाव में गड़बड़ी करने का कवर्धा जिला कांग्रेस अध्यक्ष ने लगाया है आरोप 
  • आयोग से लिखित शिकायत कर विधानसभा चुनावों से अलग रखने की मांग 

Dainik Bhaskar

Sep 16, 2018, 07:14 PM IST

बिलासपुर/रायपुर. चुनाव आयोग ने बिलासपुर के कलेक्टर और जिला निर्वाचन अधिकारी पी. दयानंद के खिलाफ जांच शुरू कर दी है। कलेक्टर के खिलाफ कवर्धा के जिला कांग्रेस अध्यक्ष रामकृष्ण साहू ने निर्वाचन में गड़बड़ी संबंधी शिकायत छत्तीसगढ़ के मुख्य निर्वाचन आयुक्त से की थी। मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुब्रत साहू ने बताया कि शनिवार को शिकायत मिलने के बाद जांच शुरू कर दी गई है। 

पंचायत चुनाव में गड़बड़ी का आरोप

  1. ओवर राइटिंग कर की हेराफेरी

    आरोप है कि जिला पंचायत चुनाव में कलेक्टर रहे दयानंद ने वोटों के टेबुलेशन चार्ट में ओवरराइटिंग के जरिए हेराफेरी कर भाजपा समर्थित प्रत्याशी को जिताने का काम किया था। कवर्धा जिला कोर्ट में भी कांट छांट की बात सामने आई थी। इसी तरह से कवर्धा के वार्ड 9 और 13 के चुनाव परिणाम को लेकर भी कलेक्टर की भूमिका की शिकायत की गई है।

  2. और भी हैं शिकायतें

    कांग्रेस अध्यक्ष साहू ने चुनाव आयोग से इस बात की भी शिकायत की है कि जिले में कई ऐसे अधिकारी पदस्थ है जो एक ही जिले में 10-12 साल से हैं। इस मामले की शिकायत के साथ आयोग को लंबे समय से पदस्थ अधिकारियों की सूची भी सौंपी गई है। इस सूची में कवर्धा के शिक्षा विभाग में पदस्थ सहायक संचालक महेंद्र गुप्ता का भी नाम है। कांग्रेस ने इस अधिकारी पर चुनाव में हेराफेरी का आरोप लगाया है। 

  3.  सुकमा कलेक्टर की भी मिली है शिकायत

    दो दिन पहले शुक्रवार को नियमित प्रेस ब्रीफिंग में सीईओ सुब्रत साहू ने एक सवाल के जवाब में बताया था कि उन्हें सुकमा कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य के खिलाफ भी शिकायत मिली है । इसकी भी जांच चल रही है। 

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..