--Advertisement--

परेशानी / युवती के अपहरण की सूचना ने 8 घंटे पुलिस काे दौड़ाया



डमी फोटो डमी फोटो
  • एक युवक ने तरवहार थाने पहुंच  सुबह 4 बजे दी पुलिस काेे जानकारी
  • कहा- कुछ लोग उससे मारपीट कर बहन को ऑटो में लेकर भाग गए
Danik Bhaskar | Sep 16, 2018, 04:55 PM IST

बिलासपुर. एक युवती के अपहरण की रविवार सुबह-सुबह मिली सूचना ने पुलिस को दिनभर खूब दौड़ाया। एक युवक ने थाने पहुंचकर बताया कि कुछ लोग उससे मारपीट कर बहन को ऑटो में अपहरण कर ले गए हैं। इस पर वायरलेस से सूचना प्रसारित कर दी गई और पुलिस ने जगह-जगह नाकाबंदी की। करीब 8 घंटे चली इस दौड़-भाग के बाद पता चला कि युवक मानसिक रूप से विकलांग है। 

अमरकंटक से अाया था ट्रेन में बैठकर

  1. कई ऑटो वालों से की गई पूछताछ

    सूचना पर पुलिस ने नाकाबंदी की। इस दौरान स्टेशन और उसके आस-पास खड़े होने वाले कई ऑटो चालकों को भी थाने बुलाकर पूछताछ की गई, लेकिन युवती की कोई जानकारी सामने नहीं आई। नाकाबांदी के दौरान भी ऐसा कोई संदिग्ध हाथ नहीं आया, जिस पर संदेह किया जा सको। ना ही किसी से अपहरण को लेकर कोई जानकारी सामने आई। 

  2. परिजनों बोले, उनकी कोई बेटी नहीं

    काफी तलाश करने के बाद भी जब युवती को लेकर कोई सुराग नहीं मिला तो पुलिस ने दिलीप से नंबर लेकर उसके परिजनों को कॉल किया। अमरकंटक में उसके पिता शिवलाल यादव ने बताया कि वह फैक्ट्री में  काम करते हैं। उनकी कोई बेटी नहीं है। उनका बेटा मानसिक रूप से विकलांग है। दिलीप ने उनको भी बहुत परेशान कर रखा है। उनको जानकारी भी नहीं है कि वह बिलासपुर पहुंच गया है।