बिलासपुर  / पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के बंगले में नौकर का शव फंदे पर लटका मिला, खुदकुशी की आशंका

नौकर संतोष कौशिक (फाइल फोटो) नौकर संतोष कौशिक (फाइल फोटो)
X
नौकर संतोष कौशिक (फाइल फोटो)नौकर संतोष कौशिक (फाइल फोटो)

  • आईजी ऑफिस के पास स्थित मरवाही सदन में 5 साल से था नौकर, बंगले में ही रहता था
  • नौकर पर लगा था बंगले से चांदी का जग चोरी करने का आरोप, पुलिस कर रही थी पूछताछ 

दैनिक भास्कर

Jan 16, 2020, 01:05 PM IST

बिलासपुर. छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के बिलासपुर स्थित बंगले में उनके नौकर का शव फांसी के फंदे पर लटकते मिला। उस पर चांदी का जग चोरी करने का आरोप था। इस संबंध में पुलिस उससे पूछताछ कर रही थी। पुलिस का कहना है प्रारंभिक जांच के दौरान मामला खुदकुशी का लग रहा है। जांच के बाद असली कारणों का पता चलेगा। शव को जिला अस्पताल के मरच्युरी में रखवा दिया गया है। मरने वाले का नाम संतोष कौशिक (32) पिता पुसऊ कौशिक था। वह पांच साल से पूर्व सीएम जोगी के आईजी ऑफिस के पास के बंगले मरवाही सदन पर घर का काम करता था।

फोन पर रो रहा था, पत्नी से बाेला-मेरे ऊपर चाेरी का इल्जाम लगा रहे हैं 

मूल रूप से कोनी थाना क्षेत्र के ग्राम रमतला का रहने वाला संतोष बंगले में ही रहकर काम करता था। संतोष ने बुधवार शाम करीब 4 बजे पत्नी कविता को फोन किया। वह रो रहा था। पत्नी से कहा, उस पर बंगले में चोरी का इल्जाम लगा रहे हैं जबकि वह इसमें शामिल नहीं है। इसके बाद उसने फोन काट दिया। पत्नी परेशान हो गई और उसने अपने भाई सरोज कश्यप को फोन कर इस बात की जानकारी दी। साथ ही उन्हें जोगी बंगले में भेजा। सरोज 4.30 बजे पहुंचा ताे गार्ड ने भीतर जाने से रोक दिया।

इसके बाद सरोज वहां से जिला कोर्ट की ओर चला गया। शाम करीब 5.30 बजे सरोज के पास सिविल लाइन थाना पुलिस का फोन गया और संतोष के फांसी लगाकर खुदकुशी करने की सूचना दी। सूचना मिलने के बाद परिजन बंगले में पहुंचे तो पुलिस ने शव को नीचे उतारवाया। घटना की सूचना मिलते ही एसपी प्रशांत अग्रवाल सहित पुलिस के अाला अफसर भी पूर्व मुख्यमंत्री के बंगले पर पहुंच गए। संतोष के दो बच्चे हैं। दोनों बच्चे पत्नी कविता के साथ गांव रमलता में ही रहते हैं। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना