छत्तीसगढ़ / पदोन्नति पर आरक्षण मामले में सरकार ने मानी गलती, सुधार के लिए हाईकोर्ट से मांगा समय

बिलासपुर हाईकोर्ट बिलासपुर हाईकोर्ट
X
बिलासपुर हाईकोर्टबिलासपुर हाईकोर्ट

  • बिलासपुर हाईकोर्ट में हुई प्रमोशन पर आरक्षण के मामले में सुनवाई 
  • त्रुटियां गिनाते हुए की गई थी जनहित याचिका दायर 

Dainik Bhaskar

Dec 02, 2019, 08:38 PM IST

बिलासपुर. छत्तीसगढ़ के हाईकोर्ट में प्रमोशन में आरक्षण के मुद्दे पर सोमवार को सुनवाई हुई। यह सुनवाई चीफ जस्टिस पीआर रामचंद्र मेनन और जस्टिस पीपी साहू के युगलपीठ में हुई। कोर्ट में राज्य शासन के तरफ से महाधिवक्ता ने स्वीकार किया कि अधिसूचना में अधिकारियों ने गलती की है। उन्होंने सुधार के लिए एक सप्ताह का समय लिया। मामले की अगली सुनवाई 9 दिसंबर को होगी। 
 

राज्य शासन ने प्रदेश में पदोन्नति पर आरक्षण देने 22 अक्टूबर को अधिसूचना जारी किया था। इस पर अधिवक्ता योगेश्वर शर्मा ने जनहित याचिका और विवेक शर्मा ने याचिका प्रस्तुत कर इस आदेश को चुनौती दी थी। याचिका में कहा गया कि आरक्षण के मामले में सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट के आदेशों का पालन नहीं किया गया है। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना