पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अवैध शराब के कारोबारी ने बेटे व साथियों के साथ मिलकर युवक को दौड़ा-दौड़ाकर मार डाला

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
युवक की हत्या के विरोध में गुस्साए लोगों ने कोटा-सकरी मार्ग पर लगाया जाम। - Dainik Bhaskar
युवक की हत्या के विरोध में गुस्साए लोगों ने कोटा-सकरी मार्ग पर लगाया जाम।
  • कोटा क्षेत्र के ग्राम नेवरा की घटना, शराब खरीदने को लेकर हुआ था विवाद, सिम्स में उपचार के दौरान युवक ने तोड़ा दम
  • युवक की मौत पर पुलिस के खिलाफ फूटा लोगों का गुस्सा, सकरी-कोटा मार्ग पर लगाया जाम, चार आरोपी हिरासत में लिए गए

बिलासपुर. छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में अवैध शराब के कारोबारी ने अपने बेटे और साथियों के साथ मिलकर सड़क पर दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। युवक का लाठी-डंडों और लोहे की रॉड से इतनी बुरी तरह मारा गया कि उसकी माैत हो गई। शराब खरीदने को लेकर युवक से विवाद हुआ था। युवक की मौत से लोगों का आक्रोश भड़क उठा। उन्होंने सुबह सकरी-कोटा मार्ग पर जाम लगा दिया। आरोपियों को शह देने का आरोप लगाते हुए लोगों ने कहा कि पुलिस की देखरेख में ही अवैध कारोबार संचालित हो रहा है। वारदात कोटा क्षेत्र के सकरी में शनिवार को हुई है। 

1) दोस्त से झगड़ा हुआ तो वे छिप गए, लेकिन युवक चढ़ गया आरोपियों के हत्थे 

कोटा क्षेत्र के नेवरा निवासी आशीष पांडेय (27) पिता दीनबंधु पांडेय शुक्रवार रात अपने साथियों अजीत दास और मनहर के साथ घूमने निकला था। आशीष व मनहर गांव में पानी टंकी के पास बैठे थे, जबकि अजीत वहां से शराब खरीदने राजू बघेल के घर गया था। यहां किसी बात काे लेकर उसका राजू बघेल से विवाद हाे गया। आरोप है कि इसके बाद राजू ने अपने बेटे प्रेम व रिश्तेदार मिथुन बघेल, गाेविंद बघेल, संजीव लहरे साथी अाकाश वस्त्रकार के साथ मिलकर अजीत की पिटाई शुरू कर दी। अजीत वहां से जान बचकर भागा ताे अाराेपियों ने उसे दौड़ा लिया। 

अजीत भागते हुए आशीष व मनहर के पास पहुंचा। आरोपी भी वहां अा गए। इस पर मनहर व अजीत जान बचाकर इधर-उधर छिप गए, लेकिन आशीष आरोपियोें के हत्थे चढ़ गया। आशीष पर आरोपियों ने स्टिक, राॅड से हमला कर दिया। इससे वह गंभीर हो गया। अजीत ने फोन कर अपने अन्य दाेस्ताें को जानकारी दी तो वे मौके पर पहुंच गए। इस पर राजू और प्रेम तो वहीं खड़े थे लेकिन बाकी आरोपी भाग निकले। इसके बाद आशीष को सामुदायिक स्वास्थ केंद्र लाया गया, लेकिन हालत गंभीर देख सिम्स रेफर कर दिया गया। वहां उपचार के दौान रात को आशीष की मौत हो गई।

सुबह जैसे ही घटना की जानकारी ग्रामीणों को लगी तो वे सड़क पर उतर आए। उन्होंने पुलिस पर अवैध शराब कारोबारियों से मिलीभगत का आरोप लगाया और हत्या के विरोध में सड़क जाम कर दी। ग्रामीण आरोपियोें को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे। जाम की सूचना मिलने पर पुलिस फोर्स के साथ ही अधिकारी व तहसीलदार भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने समझाइश देकर जाम खत्म कराया। चक्काजाम के चलते करीब दो घंटे तक सकरी कोटा मार्ग पर आवागमन बाधित रहा। इसके बाद पुलिस ने चार आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। हालांकि उनकी गिरफ्तारी अभी तक नहीं की गई है। 

कोटा इलाके में जब भी कोई अपराध होता है वहां के अधिकारी फोन रिसीव करना बंद कर देते हैंं। हत्या के बाद भी ऐसा ही हुआ। एसडीओपी से जब इस संबंध में बात करने की सरकारी नंबर पर कोशिश की गई तो उन्होंने मोबाइल ही रिसीव नहीं किया। टीआई ने कहा अभी इस मामले में एफआईआर नहीं हुआ है। जुर्म दर्ज होने के बाद कोई भी जानकारी दी जाएगी। वहीं ग्रामीणों का आरोप है कि सरकार ने ठेका प्रथा बंद कर दी है, इसके बाद भी गावों में पहले की तरह अवैध शराब का कारोबार चल रहा है। क्षेत्र के होटल ढाबों में रातभर शराब पिलाई जा रही है। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों में आपकी व्यस्तता बनी रहेगी। किसी प्रिय व्यक्ति की मदद से आपका कोई रुका हुआ काम भी बन सकता है। बच्चों की शिक्षा व कैरियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी संपन...

और पढ़ें