विवाहिता ने रोते हुए फंदे के साथ सेल्फी ली, फिर उसी से लटक कर जान दे दी; पति का प्रसंग चलने से परेशान थी

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अंबिकापुर में आत्महत्या से पहले युवती ने रोते हुए सेल्फी ली। - Dainik Bhaskar
अंबिकापुर में आत्महत्या से पहले युवती ने रोते हुए सेल्फी ली।
  • घुटरापारा क्षेत्र की घटना, सुसाइड नोट में पति के लिए लिखा- न वह मुझे छोड़ रहा है और न उस लड़की को
  • मरने के बाद शव को माता-पिता को सौंप देना, पुलिस उन दोनों (पति और प्रेमिका) के खिलाफ कार्रवाई करे

अंबिकापुर. छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर में एक विवाहिता ने दुपट्‌टे से फंदा लगाकर जान दे दी। मरने से पहले युवती ने रोते हुए मोबाइल से सेल्फी ली। पुलिस को वहां से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। इसमें युवती ने पति के लिए लिखा है कि न तो वह मुझे छोड़ रहा है और न ही उस लड़की को। युवती ने पत्र में मरने के बाद शव माता-पिता को सौंपने के लिए कहा। साथ ही, पति और उसकी प्रेमिका पर कार्रवाई की मांग की।


घुटरापारा निवासी प्रिया सोनी की शादी 5 साल पहले सौरभ से हुई थी। बुधवार को प्रिया जब घर में अकेली थी तो उसने आत्महत्या की। जब परिजन पहुंचे तो लाश फांसी पर लटकी मिली। पुलिस ने घटनास्थल से सुसाइड नोट बरामद किया। पुलिस को उसके मोबाइल में एक सेल्फी मिली। प्रिया के पिता ने आरोप लगाया है कि उसे पति और परिवार के लोग मारपीट कर प्रताड़ित करते थे।

सुसाइड नोट में लिखा... न वह मुझे छोड़ रहा और न जूली को
प्रिया ने सुसाइड नोट में लिखा है कि “आज मैं सौरभ और जूली की वजह से आत्महत्या कर रही हूं। क्योंकि सौरभ मेरी जिंदगी बर्बाद कर रहा है। न वह मुझे छोड़ रहा है और न ही जूली को और मैं ऐसे नहीं रह सकती। अब मैं नहीं जीना चाहती। मैं आज अपनी जान दूंगी और मेरे मरने के बाद मेरा शरीर मेरे मां-बाप को सौंप दिया जाए। ये मेरी आखिरी इच्छा है। मेरे मरने के बाद सौरभ और जूली पर भी कार्रवाई की जाए।