छत्तीसगढ़ / आरपीएफ जवान सोशल मीडिया का उपयोग नहीं कर सकेंगे, रेलवे डीजी ने लगाई पाबंदी

RPF jawans will not be able to use social media
X
RPF jawans will not be able to use social media

दैनिक भास्कर

Sep 17, 2019, 06:12 AM IST

अंजनी सक्सेना | बिलासपुर. रेलवे सुरक्षा बल के जवानों को सोशल मीडिया के उपयोग पर पाबंदी लगा दी गई है। इसी तरह उन्हें धार्मिक कार्यक्रमों से दूरी बनाने के निर्देश दिए गए हैं। खासतौर पर कहा गया है कि वे वर्दी में अपनी फोटो अपलोड नहीं करें। यह निर्देश रेलवे सुरक्षा बल के महानिदेशक (डीजी) अरुण कुमार ने देशभर में जारी किए हैं। पालन नहीं करने वालों को कार्रवाई की चेतावनी दी गई है। आदेश के बाद सोशल मीडिया में सक्रिय रहने वाले आरपीएफ के जवानों के सामने मुसीबत खड़ी हो गई है। डीजी ने आरपीएफ के अधिकारियों व जवानों के लिए डायरेक्टिव-54 के तहत निर्देश दिए हैं। इस आदेश में डीजी ने सभी को समझाइश दी है और सोशल मीडिया के उपयोग के लिए गाइडलाइन भी जारी की है। 

 

व्यक्तिगत अकाउंट के उपयोग के 33 दिशा-निर्देशों में मुख्य बातों में सबसे अहम बात यह है कि व्यक्तिगत एकाउंट के उपयोग में न आरपीएफ की वर्दी में फोटो, न ही आरपीएफ लोगो या ऐसे जगह का बैकग्राउंड नहीं होना चाहिए, जो कार्यस्थल के महत्वपूर्ण जगहों से संबंधित हो।


आरपीएफ कर्मी के व्यक्तिगत अकाउंट से पोस्ट करने पर जवानों की ही जिम्मेदारी होगी। भले ही उसे परिवार के सदस्यों ने किया हो। सेवा से संबंधित व्यक्तिगत समस्या को सोशल मीडिया से उठाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। इसी तरह धार्मिक संगठनों से जुड़ने व सहभागी बनाने पर पाबंदी लगाई गई है। त्योहारों के दिनों में किसी कार्यक्रम में शामिल होने पर भी रोक लगी है। उन्हें इस दौरान सोशल मीडिया पर भी सक्रिय नहीं रहने की हिदायत दी गई है। इस आदेश का पालन कराने के लिए जोनल व मंडल स्तर पर आरपीएफ के अधिकारियों को निर्देश जारी किया जा चुका है। पोस्ट प्रभारियों को भी डीजी के निर्देशों को कड़ाई से पालन करने कहा गया है। बताया जाता है कि आरपीएफ के जवान आए दिन डीजी को सोशल मीडिया पर अपनी समस्या बता रहे थे और कुछ जवान अपनी समस्या के साथ धार्मिक फोटो भी भेज रहे थे।


जानिए क्या है आदेश में 

 

  •  सोशल मीडिया पर किसी भी त्वरित के सवालों का जवाब नहीं देना। साथ ही अपनी पहचान को गोपनीय बनाए रखना है।
  •  रेलवे से जुड़े सीसीटीवी फुटेज को किसी भी व्यक्ति को नहीं दिया जाएगा।
  •  ऑन ड्यूटी होने विभागीय कार्य व सोशल मीडिया का प्रयोग नहीं करना है।
  •  अनुशासन में रहना है। यह आदेश आरपीएफ के नियमों को ध्यान में रखते हुए जारी किया गया है। सभी जवानों को अनिवार्य रूप से नियम व गाइडलाइन का पालन करना होगा।
  •  जवान विभागीय कार्य के दौरान सोशल मीडिया पर खुद की फोटो नहीं डालेगा सिर्फ आरपीएफ लोगो का ही प्रयोग करना होगा।

अनुशासन के लिए गाइडलाइन जारी करना जरूरी :  रेलवे सुरक्षा बल के महानिदेशक अरुण कुमार ने दैनिक भास्कर को बताया कि आरपीएफ में अनुशासन जरूरी है। सोशल मीडिया में कुछ जवान अपनी फोटो डाल रहे थे, जिसमें बैक ग्राउंड साफ नजर आ रहा था। इससे सुरक्षा के लिहाज से गोपनीयता भंग हो रही थी। सोशल मीडिया से दूर रहने के बारे में गाइडलाइन जारी की गई है। इसमें नियमानुसार कार्रवाई किए जाने का प्रावधान है।
 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना