पॉक्साे एक्ट में पहला निर्णय आरोपी को 20 साल की जेल

Champa News - आरोपी पीड़िता का करीबी रिश्तेदार है। पीड़िता की उम्र मात्र 8 साल है। उसके साथ दुष्कर्म जैस अपराध न केवल गंभीर...

Feb 15, 2020, 07:06 AM IST

आरोपी पीड़िता का करीबी रिश्तेदार है। पीड़िता की उम्र मात्र 8 साल है। उसके साथ दुष्कर्म जैस अपराध न केवल गंभीर प्रवृत्ति का बल्कि समाज में रिश्तों से विश्वास को उठा रहा है। छोटी बच्चियां भी अपने ही परिवार में अपने ही व्यक्तियों के बीच सुरक्षित रहने में असमर्थ हैं। जो समाज के प्रत्येक वर्ग के लिए अत्यंत चिंतनीय विषय है। ऐसे अपराधों में किसी भी स्थिति में उदारतापूर्वक विचार किए जाने से न सिर्फ समाज का न्याय से विश्वास उठ जाएगा बल्कि समाज के लोग अपराधी को स्वयं दंडित करने लगेंगे। जो व्यवस्था के लिए घातक स्थिति होगी।

उदयलक्ष्मी सिंह परमार, विशेष न्यायाधीश पॉक्सो - दो माह पहले अपने एक आठ साल की नाबालिग रिश्तेदार को अपने घर में आयोजित बर्थ डे पार्टी में ले जाने के बहाने रास्ते में उससे दुष्कर्म करने की कोशिश करने वाले करीबी रिश्तेदार को विशेष न्यायाधीश पॉक्साे सुश्री उदयलक्ष्मी सिंह परमार ने 20 वर्ष कठोर कारावास ओर 1000रुपए अर्थदंड की सजा सुनाई है। अर्थदंड नहीं पटाने पर 3 माह अतिरिक्त सजा सुनाई गई है। 13 दिसंबर 2019 को जांजगीर शांति नगर निवासी आरोपी राजेंद्र सिंह के घर में बर्थ डे पार्टी थी। उसमें शामिल करने के लिए वह अपनी एक करीबी रिश्तेदार को लेकर आ रहा था। रास्ते में दर्राभांठा के पास उसकी नियत खराब हो गई और वह नाबालिग को श्मशान की ओर ले गया। इस घटना को वहां से गुजर रही महिला एवं बाल विकास विभाग की सुपरवाइजर ने देखा तो उन्हें आशंका हुई। उन्होंने अपने पति के साथ मौके पर जाकर देखा तो आरोपी संदिग्ध हालत में था। महिला ओर उनके पति को देखकर आरोपी ने भागने की कोशिश की लेकिन अन्य लोगों की मदद से उसे पकड़ कर थाना लाया गया।

इस मामले में पुलिस ने भी पंद्रह दिनों के अंदर ही डायरी कोर्ट में प्रस्तुत कर दीथी। विशेष न्यायाधीश सुश्री परमार ने इस गंभीर मामले कीसुनवाई भी जल्दी की और घटना के दो माह के अंदर ही परिणाम आ गया।आरोपी को 20 वर्ष कठोर कारावास कीसजा सुनाई गई है।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना