कडारी संचालक मंडल हो सकता है भंग, कुसमुल में नया केंद्र बनाने की मांग

Champa News - कड़ारी समिति के संचालक मंडल ने प्रशासन के निर्णय के विरोध में एक प्रस्ताव पारित किया है कि पूर्व में खरीदी प्रभारी...

Dec 04, 2019, 08:06 AM IST
Janjgeer News - chhattisgarh news kadari governing board may be disbanded demand for new center in kusmul
कड़ारी समिति के संचालक मंडल ने प्रशासन के निर्णय के विरोध में एक प्रस्ताव पारित किया है कि पूर्व में खरीदी प्रभारी द्वारा ही धान की खरीदी की जाएगी, दूसरे प्रभारी को खरीदी करने नहीं दिया जाएगा। इस प्रस्ताव के कारण वहां धान खरीदी प्रभावित हो रही है। उप पंजीयक ने संचालक मंडल को नोटिस दिया है कि वे धान खरीदी में अवरोध पैदा न करें अन्यथा संचालक मंडल को भंग भी किया जा सकता है। धान खरीदी को व्यवस्थित करने के उद्देश्य से कलेक्टर जनक प्रसाद पाठक ने सभी खरीदी प्रभारियों व कंप्यूटर ऑपरेटर्स को बदल दिया है। स्थानांतरित खरीदी प्रभारियों ने नए कार्यस्थल पर ज्वाइन भी कर लिया है। मंगलवार से व्यवस्थित खरीदी भी शुरू हो गई है। लेकिन कड़ारी सहकारी समिति के संचालक मंडल के पदाधिकारियों ने प्रशासन के निर्णय को नहीं मानते हुए एक प्रस्ताव पारित कर लिया है कि उनके द्वारा नियुक्त खरीदी प्रभारी ही खरीदी करेंगे, दूसरे व्यक्ति को खरीदी करने नहीं दिया जाएगा। इस प्रस्ताव के कारण मंगलवार को वहां खरीदी प्रभावित हुई।





नए प्रभारी को धान खरीदने से रोक दिया गया। प्रशासन को जब संचालक मंडल के इस कार्य की जानकारी हुई तो उप पंजीयक ने संचालक मंडल को नोटिस जारी किया है।

31 किसानों से 25 सौ बोरी धान की खरीदी

चंडीपारा |
खरीदी केन्द्र डोंगाकोहरौद में मंगलवार को बोहनी हुई। 31 किसानों से 2500 बोरी धान पहले ही दिन खरीदा गया। किसान रामशरण कश्यप के धान तौल विधायक प्रतिनिधि राकेश कुमार भारद्वाज ने किया। संचालक मंडल अध्यक्ष रामनाथ भारद्वाज, उपाध्यक्ष रोहणी कश्यप, राजेश्वर , शिवकुमार दुकालू भारद्वाज ,मनीराम आदि उपस्थित थे।

कुसमुल में धान खरीदी के विरोध में किसानों ने किया चक्काजाम, नोडल अधिकारी ही हैं यहां ब्रांच मैनेजर

भास्कर संवाददाता | जांजगीर

बरतुंगा से हटाकर कुसमुल को अलग धान खरीदी केंद्र बनाने की मांग किसानों के द्वारा की गई थी। किसानों की सुविधा के लिए केंद्र बनाने की कागजी कार्रवाई की जा रही है, इस बीच धान खरीदी भी शुरू हो गई। मंगलवार को कुसमुल को केंद्र बनाने के विरोध में किसानों ने देवरघटा मार्ग में चक्काजाम कर दिया।

डभरा ब्रांच के बरतुंगा खरीदी केंद्र में बरतुंगा के अलावा बड़े मुड़पार और कुसमुल के किसानों से धान की खरीदी की जाती है। इस वर्ष कुसमुल के किसानों ने अलग केंद्र बनाने की मांग की थी, जिसके कारण कुसमुल को अलग केंद्र बना दिया गया है, इसके विरोध में मंगलवार को किसानों ने देवरघटा रोड में चक्काजाम कर दिया। सुबह से ही किसान सड़क पर बैठ गए। जिससे खरीदी प्रभावित हुई। टोकन पहले दिन नहीं बंट पाया था, इस वजह से मंगलवार को खरीदी नहीं हो पाई। जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के नोडल अधिकारी अश्वनी पांडेय ही डभरा ब्रांच के मैनेजर हैं। वे इन दिनों दोहरे प्रभार पर हैं।

Janjgeer News - chhattisgarh news kadari governing board may be disbanded demand for new center in kusmul
X
Janjgeer News - chhattisgarh news kadari governing board may be disbanded demand for new center in kusmul
Janjgeer News - chhattisgarh news kadari governing board may be disbanded demand for new center in kusmul
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना