टिकट वितरण में कांग्रेसियों के बीच नहीं हुई सुलह राजधानी में 24 घंटे बाद भी नहीं बन सकी सहमति

Champa News - नगरीय निकायों में उम्मीदवारों के चयन को लेकर जांजगीर- नैला, सक्ती नगर पालिका और नवागढ़, बाराद्वार तथा सारागांव नगर...

Dec 04, 2019, 08:06 AM IST
Janjgeer News - chhattisgarh news there was no reconciliation between congressmen in ticket distribution even after 24 hours in the capital
नगरीय निकायों में उम्मीदवारों के चयन को लेकर जांजगीर- नैला, सक्ती नगर पालिका और नवागढ़, बाराद्वार तथा सारागांव नगर पंचायत में पंचायती फंस गई है। अधिक विवाद जांजगीर नगर पालिका में फंसा है, इसी वजह से नगर कांग्रेस कमेटी और पर्यवेक्षक के द्वारा दिए गए नाम का लिफाफा भी जिला स्तरीय चयन समिति के सामने नहीं खुल पाया। बंद लिफाफा लेकर जिलाध्यक्ष को रायपुर जाना पड़ा। दुसरे दिन मंगलवार को भी नामों की अधिकृत घोषणा नहीं हो पाई। बुधवार को नाम घोषित होने की उम्मीद कांग्रेसियों को है।

नगरीय निकाय चुनावों में पार्षद पद पर किन्हें लड़ाया जाए यह सवाल कांग्रेस के लिए अहम हो गया है। बताया जाता है कि कांग्रेस के बड़े नेता अपने समर्थकों को टिकट दिलाना चाह रहे हैं, ऐसे नेता दूसरे गुट के लोगों का भी ध्यान नहीं रख रहे हैं। सूत्रों के अनुसार तीन दिन पहले जिला मुख्यालय में कांग्रेस के कुछ चुनिंदा नेताओं ने बैठकर अपने लोगों को टिकट देने पर सहमति दे दी थी। लेकिन सोमवार को जब जिला स्तरीय चयन समिति की बैठक हुई तो अन्य लोग भी अपने लोगों को टिकट दिलाने के लिए अड़ गए।

वार्ड नंबर 9 से भाजपा का गणित न बिगाड़ दें बागी पूर्व पार्षद ने टिकट नहीं मिलने पर लिया नामांकन

नरेंद्र साहू निर्दलीय लड़ेंगे चुनाव, नगर कांग्रेस कमेटी व एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष ने भी लिया फार्म

भास्कर संवाददाता | अकलतरा

भाजपा के पूर्व पार्षद नरेंद्र साहू ने वार्ड क्रमांक 9 से इस बार टिकट के लिए दावेदारी की थी, लेकिन पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया, पार्टी के निर्णय के विरोध में अब उन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ने का मन बना लिया है। मंगलवार को उन्होंने फार्म भी ले लिया है।

मंगलवार को भाजपा के पूर्व पार्षद नरेन्द्र साहू, नरेन्द्र देवांगन, नगर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष रविन्द्र साहू, एनएसयूआई जिलाध्यक्ष अंकित सिंह सिसोदिया, गौरी सिंह चौहान, मदन सिंह बैस, संत बंजारे सहित 21 लोगों द्वारा नामांकन फार्म लिया गया। भाजपा के पूर्व पार्षद नरेन्द्र साहू द्वारा वार्ड नं. 9 से भाजपा से पार्षद पद हेतु टिकट मांगी जा रही थी पर मिली नहीं इसलिए वे अब निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे। वार्ड नं. 10 से नरेन्द्र देवांगन द्वारा भाजपा से दावेदारी की गई थी।

पार्टी द्वारा टिकट नहीं देने पर नरेन्द्र देवांगन द्वारा भी निर्दलीय चुनाव लड़ने की बात कही जा रही है। कांग्रेस पार्टी द्वारा अधिकृत रुप से पार्षद प्रत्याशियों की सूची जारी नहीं की गई है, लेकिन आज नगर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष रविन्द्र साहू, वार्ड नं. 17 के पार्षद अंकित सिंह सिसोदिया, दिवाकर राणा एवं टिकट के अन्य दावेदारों द्वारा नामांकन फार्म खरीदा गया।

केवल दो दिन मिलेंगे उम्मीदवारों को

बुधवार को यदि लिस्ट जारी हो जाती है तो उम्मीदवारों काे नामांकन खरीदने, नया खाता खोलने, शपथ पत्र बनाने से लेकर जमाम औपचारिकताओं को पूरा करने के लिए केवल दो दिन ही मिलेंगे क्योंकि 6 दिसंबर नामांकन का आखिरी दिन है।

दो बार निर्वाचन व्यय की जानकारी पेश करनी होगी

नगरीय निकाय आम चुनाव 2019 के सभी उम्मीदवार या उनके चुनाव अभिकर्ता द्वारा दिन-प्रतिदिन का व्यय लेखा संबंधित वाउचरों और देयकों के साथ नाम वापसी हेतु नाम वापसी तिथि 9 दिसंबर और मतदान तिथि 21 दिसंबर के बीच अनिवार्यतः निर्वाचन व्यय परीक्षक द्वारा नियत तिथि पर कम से कम दो बार जांच हेतु प्रस्तुत करना होगा। आवश्यकता होने पर दो बार से अधिक बार भी जांच के लिए बुलाया जा सकता है।अभ्यर्थी को निर्वाचन परिणाम की घोषणा के पश्चात 30 दिवस के भीतर निर्वाचन व्ययों का सार प्रोफार्मा ख में शपथ पत्र के साथ जिला निर्वाचन अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत करना होगा।

नगर पंचायत अड़भार

वार्ड क्रमांक प्रत्याशी का नाम
















विस और लोस की तर्ज पर भाजपा ने किसी भी पार्षद को नहीं किया रिपीट

भास्कर संवाददाता | चांपा

नगरीय निकाय चुनाव में भी भाजपा ने लोकसभा चुनाव की तर्ज पर अधिकांश वार्डों में नए चेहरों पर दांव लगाई है। वर्तमान पार्षदों को टिकट नही दी गईं है। हालांकि कुछ वार्डों में उनकी प|ी को लड़ाया जा रहा है । अनेक वार्डों में पुराने पार्षद रह चुके जिनमे कुछ पिछला चुनाव भी हार चुके है उन पर भी इस बार पार्टी ने विश्वास जताया है ।

10हजार वोट वाले देवांगन समाज से इस बार भाजपा ने 2 वार्डों में ही प्रत्याशी को टिकट दिया है हालांकि अभी वार्ड नंबर 8 एंव 17 को पेंडिंग रखा गया है । प्रदेश में सत्ता जाने के बाद बीजेपी ने नगरीय निकाय चुनाव को अपनी प्रतिष्ठा का प्रश्न बना लिया है । हर हाल में वार्डों को जीतने के लिए मजबूत केंडिडेट का दावा कर कांग्रेस से पहले सूची जारी कर चुनाव का बिगुल फूंक दिया है । लगभग आम सहमति से टिकट फाइनल का दावा भाजपा कर रही है पर कुछ अंदरूनी कलह सामने आ सकता है । नगरपालिका अध्यक्ष का सीट सामान्य होने के कारण चुनाव लड़ने वालों की होड़ थी लेकिन पार्टी ने काफी मशक्कत के बाद प्रत्याशियों की चयन सूची जारी की है । अधिकांश जगह सिंगल नाम थे उस पर कोई परेशानी नही है पर जहाँ दो व उससे अधिक नाम थे उन वार्डों में भाजपा को कड़ी नजर रखनी होगी ताकि कोई पार्टी से बगावत कर पार्टी का समीकरण न बिगाड़ दे । पिछले चुनाव में भाजपा के 8 पार्षद ही चुनाव जीतकर पालिका पहुंचे थे लेकिन इस बार अध्यक्ष को पार्षदों को चुनना है तो पार्टी को इस बार काफी मेहनत करनी पड़ेगी ।

वार्ड क्रमांक प्रत्याशी का नाम

कुछ पुराने पराजित उम्मीदवारों पर लगाया है दांव

कांग्रेस वर्तमान पार्षदों पर दांव लगा सकती है

नगरपालिका की सत्ता पाने कांग्रेस पुनः इस बार एकजुट होकर लड़ने का दावा कर रही है । प्रदेश में भी उनकी सत्ता है ऐसे मेंं कांग्रेस के लिए नाक का सवाल है । जिला स्तर सेे सभी 27 वार्ड के लिए पैनल प्रदेश कांग्रेस कमेटी को भेेेजा गया है। सूत्रों के अनुसार वर्तमान सत्रह पार्षदों में से 14 पार्षदों को फिर से टिकट दी जा सकती है।

इनमें से हो सकते हैं कांग्रेस के उम्मीदवार

वार्ड - संभावित उम्मीदवार




























मंगलवार को 19 लोगों ने खरीदे फार्म

तीसरे दिन तक एक भी नामांकन नहीं हुआ दाखिल

भास्कर संवाददाता | बाराद्वार

नगर पंचायत के पार्षद पद के चुनाव हेतु 3 दिसंबर मंगलवार को 19 दावेदारों ने नामांकन फार्म खरीदा है एवं किसी भी अभ्यर्थी के द्वारा नामांकन फार्म जमा नहीं किया गया। तीन दिनों में 27 नामांकन फार्म खरीदे गये हैं एवं केवल 1 ने ही नामांकन फार्म जमा किया है।

सहायक रिटर्निंग आफिसर केएल सरवन एवं शिवकुमार यादव ने बताया कि 3 दिसंबर तक केवल 1 अभ्यर्थी द्वारा नगर पंचायत के पार्षद पद के लिए वार्ड 7 से नामांकन पत्र जमा किया है एवं मंगलवार को 19 अभ्यर्थियों ने नामांकन फार्म खरीदा है। जिसमे वार्ड 5 से वंदना दुबे, पुष्पादेवी शर्मा, वार्ड 6 से ऋषि राय, वार्ड 7 से सीताराम शर्मा, वार्ड 8 से कृष्ण कुमार सेन, वार्ड 10 से जयकिशन केडिया, वार्ड 11 से अमरौतिन बाई कुर्रे, वार्ड 12 से नारायण प्रसाद कुर्रे, छत्तराम कुर्रे, भोजराम खुंटे, वार्ड 13 से विजय कुमार, रेशमा खुर्से, रामचरण खाण्डे, वार्ड 14 से विजय कुमार, रेशमा खुर्से, अशोक खाण्डे, वेदप्रकाश खाण्डे, अंजू कुर्रे, वार्ड 15 से मेघनु कुमार भैना का नाम शामिल है।

X
Janjgeer News - chhattisgarh news there was no reconciliation between congressmen in ticket distribution even after 24 hours in the capital
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना