मकर संक्रांति पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने सूर्य नमस्कार कर ध्वज वंदना भी की

Dhamtari News - धमतरी| आरएसएस स्वयंसेवकों ने नूतन उच्चतर माध्यमिक विद्यालय परिसर में मकर संक्रांति उत्सव मनाया। इस अवसर पर संघ...

Jan 16, 2020, 06:55 AM IST
Dhamtari News - chhattisgarh news on makar sankranti rashtriya swayamsevak sangh also worshiped the sun by flagging the flag
धमतरी| आरएसएस स्वयंसेवकों ने नूतन उच्चतर माध्यमिक विद्यालय परिसर में मकर संक्रांति उत्सव मनाया। इस अवसर पर संघ का भगवा ध्वज फहराया गया। सभी ने सामूहिक रूप से सूर्य नमस्कार व अन्य आसन कर ध्वज वंदना की।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि नगर संघ चालक रामलखन गजेन्द्र थे। मुख्य वक्ता के रूप में गौरव मगर उपस्थित थे। गौरव मगर ने कहा कि मकर संक्रांति के कुछ वैज्ञानिक कारण हैं। मकर संक्रांति के दिन से ही नदियों में वाष्पण की प्रक्रिया शुरू होती है। इसी कारण नदियों में डुबकी लगाने की परंपरा है। इसका चिकित्सा के रूप में कई महत्व है।

सूर्य उत्तरायण शुभ माना जाता है और दक्षिणायन में होता है तो उसे अशुभ माना जाता है। उन्होंने कहा कि महाभारत काल के भीष्म पितामह ने उत्तरायन में अपने प्राण त्यागे थे। उनका मानना था उत्तरायण में यदि प्राण चले जाते हैं, तो सीधे स्वर्ग की प्राप्ति होती है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के 6 उत्सव में मकर संक्रांति उत्सव एक है।

गौरव मगर ने कहा कि जिस तरह गुड़ गर्मी में तपकर आग में पिघलकर तिल के साथ मिलकर एक स्वादिष्ट व्यंजन का निर्माण करता है। इसी प्रकार स्वयंसेवकों को तपकर पिघलकर बाकी समाज के साथ मिलकर एक अच्छे समाज व देश का निर्माण करना है। इसके बाद तिल के लड्डु से मुंह मीठाकर पर्व की बधाई दी। कहकर पर्व की बधाई दी। इस अवसर पर शिवाजी प्रभात शाखा के स्वयंसेवक राजू सोनकर, राजकुमार पटेल, विनोद राव रणसिंग, राघवेंद्र राव रणसिंग, कोमल सार्वा, शिवाजी साहू, हरिवंश साहू, निलेश राजा, बंटी जेठवानी, पवन कौशिक, धनराज पटेल, दिनेश पटवा, उमेश वशिष्ठ आदि उपस्थित थे।

सामूहिक रूप से सूर्य नमस्कार करते आरएसएस स्वयंसेवक।

X
Dhamtari News - chhattisgarh news on makar sankranti rashtriya swayamsevak sangh also worshiped the sun by flagging the flag
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना