ओपीडी भवन शुरू से था खराब, अफसरों ने ठेकेदार को बचाया, अब करा रहे मरम्मत

Dhamtari News - आम आदमी के पैसे को बर्बाद करने का उदाहरण देखना है तो आप जिला अस्पताल के ओपीडी भवन को देख सकते हैं। यह 5 साल पहले ही...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 06:50 AM IST
Dhamtari News - chhattisgarh news opd building was bad from start officers rescued contractor now undergoing repairs
आम आदमी के पैसे को बर्बाद करने का उदाहरण देखना है तो आप जिला अस्पताल के ओपीडी भवन को देख सकते हैं। यह 5 साल पहले ही बनकर तैयार हुआ है। इसमें लगभग हर दीवार में दरारें आ गईं हैं। पिलर दीवारों को छोड़ रहे हैं। डॉक्टर यहां बैठने से डर रहे हैं। 2015 में तत्कालीन कलेक्टर सीआर प्रसन्ना ने निरीक्षण के दौरान भवन में तकनीकी समस्या की आशंका जताते हुए जांच कराने व ठेकेदार पर कार्रवाई के लिए कहा था। पीडब्ल्यूडी ने जांच भी कराई लेकिन अफसरों ने ठेकेदार पर कार्रवाई नहीं की। अब विभाग खुद ही मरम्मत करा रहा है।

जिला अस्पताल का यह ओपीडी (बाह्य रोगी विभाग) भवन 5 साल पहले ही 43 लाख से बना था। यहां बने 11 कमरों में से कक्ष क्रमांक 1, 2, 3, 4, 10 11 में दरारें हैं। इस कारण भवन खतरनाक हो गया है। छुटपुट मरम्मत के बाद भी दीवाराें में दरारें बढ़ रही हैं। जमीन से लेकर भवन की छत तक आड़ी-तिरछी कई दरारें हैं। कुछ कमरों की दरार इतनी अधिक चौड़ी है कि बीम और दीवार अलग हो गए हैं। इससे कभी भी दीवार ढहने का खतरा बना हुआ है। टाइल्स भी उखड़ने लगे है। खतरे की स्थिति को देखकर अब इस भवन का पीडब्ल्यूडी विभाग मरम्मत करवा रहा है। भवन के सारे टाइल्स उखाड़कर नए लगाए जा रहे हैं। पीडब्ल्यूडी के ईई के मुताबिक ठेकेदार की समय अवधि खत्म हो गई है, इसलिए कार्रवाई नहीं होगी।

अफसरों ने बताया कि कि भवन निर्माण इस्टीमेट में सभी कक्ष में टॉयलेट बनाने का उल्लेख नहीं था। अस्पताल प्रबंधन के दबाव पर प्रत्येक कमरे में टॉयलेट बनाया गया है। इस खर्च की भरपाई भवन बनाने में लगने वाले समान को कमजोर करके की गई। इस कारण भवन कमजोर हो गया। 5 साल में ही दरक गया।

पीडब्ल्यूडी ईई बोले- ठेकेदार की समय अवधि खत्म, इसलिए कार्रवाई नहीं होगी

धमतरी। अस्पताल की ओपीडी नेत्ररोग विभाग में लग रहा है।

नेत्र विभाग में ओपीडी से हो रही मुश्किल

धमतरी जिला अस्पताल पूरे राज्यभर में साफ-सफाई और बेहतर सुविधा के लिए चर्चित रहा है। यहां रोज शहर के अलावा सरहदी जिले गरियाबंद, बालोद, रायपुर, दुर्ग, कांकेर और ओडिशा के भी मरीज आते हैं। रोज की ओपीडी 500 से अधिक रहती है। नेत्र विभाग में ओपीडी लगने से डॉक्टरों को भी इलाज करने में असुविधा हो रही है। बताया जा रहा है कि इस भवन का पीडब्ल्यूडी विभाग मरम्मत करवा रहा है। भवन के सारे टाइल्स उखाड़कर नए लगाए जा रहे हैं।

समयावधि खत्म इसलिए कार्रवाई नहीं

2015 में तत्कालीन कलेक्टर सीआर प्रसन्ना ने निरीक्षण के दौरान भवन निर्माण कार्य की टेक्निकल जांच करवाने के बाद दोषी अफसरों ठेकेदार पर कार्रवाई की बात कही थी। पीडब्ल्यूडी ने जांच भी कराई। कलेक्टर तक रिपोर्ट भी भेजी। इसके बाद सभी अफसरों ने मिलीभगत करके ठेकेदार को बचा लिया। कार्रवाई नहीं हुई। अब ठेकेदारी की गारंटी का समय खत्म होने की बात कही जा रही है। कार्रवाई नहीं की जा सकती है।

विभाग करवा रहा मरम्मत: पीडब्ल्यूडी के ईई आरआर सूर्या ने कहा कि भवन में दरार आने से खतरनाक हो गया था, इसलिए मरम्मत करवा रहे है। जिस ठेकेदार ने निर्माण किया था, उसे देखरेख के लिए 3 साल का समय रहता है। समय अवधि भी निकल गई।

नया ओपीडी की पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा मरम्मत करवाई जा रही है।

मरम्मत भी घटिया होनी तय: अफसर बता रहे हैं कि मरम्मत के लिए कोई फंड नहीं दिया है, ठेकेदार अन्य भवन निर्माण का काम कर रहा है उसी में यह कराया जा रहा है, मतलब यह मरम्मत को घटिया होगी ही। ठेकेदार जो अन्य काम कर रहा गुणवत्ता से भी समझौता करेगा।

भवन में लगते थे यह सभी विभाग

कक्ष क्रमांक 1 में हड्डी रोग विशेषज्ञ, 2 में शल्य रोग विशेषज्ञ, 3 व 5 में मेडिसिन विशेषज्ञ, 4 में नेत्र रोग विशेषज्ञ, 6 में स्पर्श क्लिनिक मनोरोग विभाग, 7 में शिशु रोग विशेषज्ञ, 8 व 9 में कान, नाक, गला रोग विशेषज्ञ, 10 में सामान्य रोग व कक्ष क्रमांक 11 में आवासीय चिकित्सा अधिकारी का कार्यालय संचालित है। यहां के 11 कमरों में 14 डॉक्टर प्रतिदिन सैकड़ों मरीजों को देखते हैं। मरम्मत होने तक ओपीडी को नेत्र चिकित्सालय भवन में शिफ्ट किया गया है।

Dhamtari News - chhattisgarh news opd building was bad from start officers rescued contractor now undergoing repairs
X
Dhamtari News - chhattisgarh news opd building was bad from start officers rescued contractor now undergoing repairs
Dhamtari News - chhattisgarh news opd building was bad from start officers rescued contractor now undergoing repairs
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना