पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Dhamtari News Chhattisgarh News Plastic Free Zones Will Be Made To Stop Using Polythene Bags Will Also Be Distributed

पॉलीथिन का प्रयोग रोकने प्लास्टिक मुक्त जोन बनेगा, थैले भी बांटे जाएंगे

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पॉलीथिन और प्लास्टिक की समस्या को दूर करने धमतरी नगर निगम शहर में प्लास्टिक मुक्त जोन बनाएगा। निगम धमतरी के कमिश्नर आशीष टिकरिहा ने इसके लिए प्रयास शुरू कर दिए हैं। शहर के कुछ समाजसेवी संगठनों से भी उनकी बैठक हो गई। शहर में रविवार को नो प्लास्टिक पर साइकिल जागरुकता रैली निकाली जाएगी।

बाजारों में सब्जी बेचने वाले अभी भी पॉलीथिन में ही ग्राहकों को सब्जी दे रहे हैं। इन व्यवसायियों को पॉलीथिन में सब्जी न देने के लिए जागरुक किया जाएगा। नगर निगम शहर के प्रमुख गोलबाजार, इतवारी बाजार, रामबाग बाजार और सिहावा चौक के बाजार में कपड़े के थैले की दुकान महिला समूह के माध्यम से लगवाई जाएंगी। थैले को 10 रुपए की दर से बेचा जाएगा। इससे बाजार में हो रही पॉलीथिन के उपयोग पर पूरी तरह प्रतिबंध लगेगा। कमिश्नर आशीष टिकरिहा ने कहा कि हर व्यक्ति को पॉलीथिन के नुकसान के प्रति जागरुक किया जाएगा।

पॉलीथिन मुक्त अभियान चलाने बाजार में कार्रवाई होगी। शहर को हर हाल में पॉलीथिन मुक्त जोन बनाया जाएगा। पॉलीथिन में सामान बेचते पकड़े जाने पर जुर्माने के साथ जेल भी हो सकती है।

50 किलो निकलता है पॉलीथिन का कचरा: राज्य सरकार ने 1 अगस्त से पॉलीथिन पर प्रतिबंध को लागू कर दिया है, ताकि राज्य को पॉलीथिन मुक्त बनाया जा सके, लेकिन अभी भी हर जगह पॉलीथिन का सबसे ज्यादा चलन है। निगम स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक प्रतिदिन 50 से 60 किलो पॉलीथिन का कचरा निकलता है।

जानिए... प्रतिबंध की घोषणाओं का क्या हुआ
1 जनवरी 2015-केंद्र ने पूरे देश के साथ छत्तीसगढ़ में 20 माइक्रोन से कम के नॉन डीग्रेडेबल पॉलीथिन कैरी बैग पर प्रतिबंध लगाया है। इसके कुछ दिनों तक लोगों ने पॉलीथिन का इस्तेमाल नहीं किया, लेकिन जैसे ही सख्ती कम हुई फिर से पॉलीथिन मिलने लगे।

24 सितंबर 2018- तत्कालीन छत्तीसगढ़ सरकार ने राजपत्र में प्रकाशित कर पूरे प्रदेश में पॉलीथिन प्रतिबंध करने की घोषणा की थी। कुछ अंतराल बाद फिर से खरीद फरोख्त शुरू हो गई।

1 अगस्त 2019- राज्य की नई सरकार ने फिर से पॉलीथिन पर प्रतिबंध लगाने की बात कही है। इस बाद उन्होंने पॉलीथिन बांटने वाले पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। ताकि पर्यावरण संतुलन को बनाए रखने के लिए नॉन डीग्रेडेबल पॉलीथिन को रोका जा सके।

पॉलीथिन के इस्तेमाल से हमें यह नुकसान
जमीन की उर्वरा शक्ति को पहुंच रहा हैं नुकसान।

प्लास्टिक प्रोडक्ट में प्रयोग ह्यूमन बॉडी में लीवर एंजाइम को प्रभावित कर देता है।

ज्यादा उपयोग करने पर मस्तिष्क के ऊत्तकों का क्षरण होकर नुकसान पहुंचाता है।

पॉलीथिन के थैली में गर्म चायन, जूस ले जाने पर उसके कैमिकल सीधे शरीर में पहुंचते हैं।

पॉलीथिन का कचरा जलाने पर कार्बन डाई ऑक्साइड और डाई ऑक्सीजन जैसी विषैला गैस निकलती है। इससे सांस, स्किन की बीमारियाें की आशंका बढ़ती है।

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। वैसे भी आज आपको हर काम में सकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे। इसलिए पूरी मेहनत से अपने कार्य को संपन्न करें। सामाजिक गतिविधियों में भी आप...

और पढ़ें