प्रदूषण से बचाने 3 तालाबों में मूर्तियां जुटाईं फिर ले गए रुद्री बैराज, कराया गया विसर्जन

Dhamtari News - शहर के आमातालाब, बनिया तालाब और शीतला तालाब में हर साल करीब 200 से अधिक प्रतिमा विसर्जित होती है। तालाबों को प्रदूषण...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 06:55 AM IST
Dhamtari News - chhattisgarh news sculptures gathered in 3 ponds to protect them from pollution rudri barrage taken immersion done
शहर के आमातालाब, बनिया तालाब और शीतला तालाब में हर साल करीब 200 से अधिक प्रतिमा विसर्जित होती है। तालाबों को प्रदूषण से बचाने नगर निगम कमिश्नर भास्कर के अभियान से जुड़े और उन्होंने इस साल तालाबों को प्रदूषण से बचाने प्रयास किया। कमिश्नर का प्रयास सफल रहा। इस बार एक भी प्रतिमा को तालाबों में विसर्जित नहीं करने दिया गया।

तीनों तालाबों में निगम के अधिकारी-कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई थी। लोगों को विसर्जन के लिए समस्या न हो, इसलिए निगम ने इन स्थानों में अपने वाहन भी रखे थे। 2 दिन में इन तालाबों में विसर्जन के लिए 148 प्रतिमाएं आईं। इनमें शीतला तालाब में 27, आमातालाब में 23 और बनिया तालाब में 98 मूर्तियां आईं। सभी मूर्तियों को रुद्री बैराज में ले जाया गया। पहली बार कड़ाई के साथ निगम तालाबोंं को प्रदूषित होने से बचाने के लिए तत्पर रहा।

तालाबों को प्रदूषण से बचाने के लिए लोगों ने छोटी मूर्ति घर में ही विसर्जित कीं

धमतरी. भखारा निवासी हरख जैन ने मिट्टी के श्रीगणेश की प्रतिमा अपने घर में टब में विसर्जित किया।

भास्कर के अभियान से मिली प्रेरणा: कमिश्नर

कमिश्नर आशीष टिकरिहा ने कहा कि भास्कर हर साल मिट्टी के गणेश रखने और घर में विसर्जन करने के लिए लोगों को प्रेरित करता है। यह प्रयास तालाबों को बचाने कि दिशा में बेहतर उपाय है। इस साल प्रमुख तालाबों में प्रतिमा विसर्जित न हो, इसलिए वाहन सहित आपने कर्मचारी रखे। रिजल्ट भी सामने आया। शहर के लोगों का भी सहयोग मिला। लोगों की जागरूकता से आगे भी पर्यावरण संवर्धन की दिशा में प्रयास करेंगे।

निगम ने ट्रैक्टरों से प्रतिमा एकत्रित कर रुद्री बैराज में विसर्जन किया।

सैकड़ों मूर्तियां घरों में ही विसर्जित

भास्कर के अभियान के साथ जुड़ते हुए लोगों के घरों में बड़ी संख्या में बैठाए गए गणेश की मिट्टी की मूर्तियां घरों में विसर्जित की गईं। भखारा निवासी हरख जैन ने अपने घर में टब में मिट्टी के गणेश का विसर्जन किया। उन्होंने कहा कि घर में भगवान श्रीगणेश की प्रतिमा का विसर्जन करने का मुख्य उद्देश्य नदी और तालाबों को प्रदूषण से मुक्त करना है। उन्होंने खुद घर पर ही विसर्जन किया।

रुद्री में बना था विसर्जन कुंड, क्रेन की भी मदद ली

गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन सुरक्षित ढंग से रुद्री बैराज कराया गया। पूजा सामग्री विसर्जन के लिए अलग से कुंड भी बनाया गया था। छोटे मूर्तियों को भक्तों ने खुद विसर्जन किया। बड़ी मूर्तियां क्रेन से विसर्जित कराई गई। अनहोनी से निपटने के लिए यहां 2 मोटर बोट, 8 गोताखोर की व्यवस्था की गई थी।

Dhamtari News - chhattisgarh news sculptures gathered in 3 ponds to protect them from pollution rudri barrage taken immersion done
Dhamtari News - chhattisgarh news sculptures gathered in 3 ponds to protect them from pollution rudri barrage taken immersion done
X
Dhamtari News - chhattisgarh news sculptures gathered in 3 ponds to protect them from pollution rudri barrage taken immersion done
Dhamtari News - chhattisgarh news sculptures gathered in 3 ponds to protect them from pollution rudri barrage taken immersion done
Dhamtari News - chhattisgarh news sculptures gathered in 3 ponds to protect them from pollution rudri barrage taken immersion done
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना