पुरोहिताई अधिकार जताने के लिए नहीं बल्कि निस्वार्थ सेवा के लिए है : बिशप

Jashpuranagar News - कैथाेलिक धर्मप्रान्त जशपुर का पुरोहिताभिषेक समारोह कुनकुरी पल्ली में हुअा। समारोह में ग्राम पटया पल्ली घाघरा...

Jan 04, 2020, 07:21 AM IST
Kunkuri News - chhattisgarh news the priesthood is not for asserting authority but for selfless service bishop
कैथाेलिक धर्मप्रान्त जशपुर का पुरोहिताभिषेक समारोह कुनकुरी पल्ली में हुअा। समारोह में ग्राम पटया पल्ली घाघरा से उपयाजक सेलेस्टिन कुजूर, आंधला पल्ली अम्बाकोना से उपयाजक अमित कुजूर, कंटाबेली पल्ली घाघरा से उपयाजक पीटर पौल कुजूर, सकरडीह पल्ली घाघरा से उपयाजक संदीप तिर्की एवं ग्राम कलारू पल्ली घाघरा से संजीव तिग्गा का पुरोहिताभिषेक रोजरी की महारानी महागिरजाघर में उत्साह एवं धार्मिक वातावरण में हुआ। पांच उपयाजकों का पुरोहिताई अभिषेक अमेरिका से आए बिशप विलियम शॉन माइकनाइट ने किया। इसमें जम्मू कश्मीर धर्मप्रान्त के बिशप ईवान अल्बर्ट परेरा तथा जशपुर धर्मप्रांत के बिशप एम्मानुएल केरकेट्टा ने सहयाेग किया।

पुरोहित अभिषेक की शुरुआत घाघरा पालीवासियों के प्रवेश नृत्य से किया गया। जिसके बाद फादर अलेक्स एक्का ने अतिथियों का परिचय दिया। इसके बाद जशपुर धर्मप्रान्त के विकार जेनरल फादर सिकंदर किस्पोट्टा ने स्वागत उद्धबोधन दिया। मिस्सा पूजा की अगुवाई बिशप एम्मानुएल केरकेट्टा ने की। जेफरसन सिटी धर्मप्रान्त अमेरिका के बिशप विलियम शॉन माइकनाइट ने जशपुरवासियों तथा अतिथियों को नए वर्ष की शुभकामनाएं देते हुए पुरोहिताई का अर्थ समझाया। उन्होंने ने कहा कि पुरोहित बनना ईश्वर का बुलावा है। युवा नबी येरेमियस ने अपने आपको अयोग्य महसूस किया, लेकिन ईश्वर ने उसे चुना एवं योग्य बनाया। मनुष्यों के बीच से ईश्वर अपने दाखबारी में काम करने बुलाता है। अयोग्य होने के बावजूद भी ईश्वर पुरोहित बनने का गौरव प्रदान करता है। उसे हम विनम्रता से ग्रहण करते हैं।उन्होंने येशु के पद चिह्न पर चलने के लिए प्रेरित किया। पुरोहिताई पद, सम्मान और अधिकार जताने के लिए नहीं बल्कि संस्कारों का अनुष्ठान करना, निस्वार्थ सेवा देना तथा परोपकार करना है। जिसके लिए आवश्यकता है प्रार्थना, पवित्रता और समर्पण का जीवन। प्रवचन के बाद पुरोहिताई की विशेष धर्म विधि के तहत शुद्धता, आज्ञापालन एवं दरिद्रता का व्रत उन्हें दिया गया। धार्मिक गीतों एवं नृत्य घाघरा पल्ली एवं ज्योति बालिका स्कूल समुदाय ने किया। कार्यक्रम के दूसरे सत्र में नव अभिषिक्त पुरोहितों को बधाई देने के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों हुए। जिसमे बधाई गीत एवं पारंपरिक नृत्य की प्रस्तुति दी गई। नव अभिषिक्त फादर सेलेस्टिन कुजूर ने आभार प्रदर्शन किया। कार्यक्रम का संचालन फादर कंचन तिर्की ने किया। समारोह में मध्यप्रदेश प्रोविंश येशु संघ के प्रोविंशीयल फादर रंजीत तिग्गा, पुरोहित, धर्मबहने, परिवार के सदस्य, रिश्तेदार सहित विदेशी मेहमानों में अन्न कैम पीटर, क्लेर कैम पीटर, जेक सैपर, कैथलीन फर्नान्डर्स, एडवर्ड विलियम जॉर्डन शामिल हुए। अंत में बिशप एम्मानुएल केरकेट्टा ने नए पुरोहितों के परिवार वालों तथा जिहोंने सहयोग किया उनका आभार जताया।

पुरोहिताई का अभिषेक अमेरिका से आये बिशप विलियम शॉन माइकनाइट

Kunkuri News - chhattisgarh news the priesthood is not for asserting authority but for selfless service bishop
X
Kunkuri News - chhattisgarh news the priesthood is not for asserting authority but for selfless service bishop
Kunkuri News - chhattisgarh news the priesthood is not for asserting authority but for selfless service bishop
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना