पीने के पानी की समस्या के साथ गंदगी भी बड़ा मुद्दा, भालुओं के आतंक से परेशानी

Kanker News - कांकेर | आपका वार्ड आपकी बात के तहत वार्ड क्रमांक 3 शिवनगर वार्ड का भास्कर ने जायजा लिया। यहां की प्रमुख समस्याएं...

Nov 11, 2019, 07:06 AM IST
कांकेर | आपका वार्ड आपकी बात के तहत वार्ड क्रमांक 3 शिवनगर वार्ड का भास्कर ने जायजा लिया। यहां की प्रमुख समस्याएं पेयजल, गंदगी के अलावा भालुओं का आतंक भी है। अधिकांश लोगों की शिकायत है उन्हें पर्याप्त पानी नहीं मिल पाता। नियमित सफाई नहीं होने से लोगों में गुस्सा है। वार्ड के बड़े भाग में पानी सप्लाई वाली पाइपलाइन का विस्तार नहीं हो पाया है। शिवनगर के ऊपरी भाग में पानी की समस्या विकराल है। गर्मी के मौसम में तो पानी के लिए त्राही त्राही मच जाती है। नरहरदेव स्कूल के पीछे 50 घरों की बस्ती की ओर मोटी पाइपलाइन बिछाने की मांग की जा रही है क्योंकि पतली पाइपलाइन से पर्याप्त पानी नहीं आता। यहां मात्र सार्वजनिक नल कनेक्शन दिए गए हैं, लोग घरों में पाइपलाइन विस्तार कर कनेक्शन देने की मांग कर रहे हैं। डाइट हॉस्टल के पीछे 20 घरों तक तो पाइपलाइन का विस्तार ही नहीं हो पाया है। पार्षद संजीव अहिरवार का दावा है कि वार्ड में 60 लाख के विकास कार्य कराए गए हंै। जिनमें सामुदायिक भवन, सड़क, नाली, पाइपलाइन के काम हुए हैंहैं।

वार्ड की तस्वीर

1400

वार्ड की आबादी

1000

मतदाता

400

मकान

वार्ड के लोगों की जुबानी वो बातें जो कोई अफसर सुनता नहीं

भालुओं का भारी आतंक

शहर के बीच यह वार्ड पहाड़ से लगा हुआ है इसलिए यहां भालुओं का आतंक है। गत वर्ष सितंबर में एक बुजुर्ग महिला पर बाड़ी में भालू ने हमला कर दिया था। इस वर्ष भी एक महिला पर भालू ने हमला किया। वार्डवासियों की मांग के बाद वन विभाग ने पहाड़ी की फेंसिंग कराई जो जगह जगह से उखड़ गई है जहां से भालू पहुंच रहे हैं।

सर्वे : आइए लोगों से जानें व्यवस्था से कितने संतुष्ट हैं

1. क्या आपके मोहल्ले में समय से पीने का पानी आता है?

50%

लोगों ने कहा- हां

बातें जो वार्ड के लोग चाहते हैं

  संजीव अहिरवार, पार्षद, शिव नगर








वार्ड क्र. 3 : शिव नगर

कचरा गाड़ी नहीं पहुंचती

वार्ड मेंं नालियों की सफाई नहीं होती। डाइट हॉस्टल के पीछे व नरहरदेव स्कूल के पीछे बसाहट में शिकायत ज्यादा है। डाइट के पीछे कचरा उठाने वाहन तक नहीं पहुंचता। नालियों में गंदगी पसरी है। कचरा गाड़ी नहीं आने से लोग गंदगी खुले में फेंक रहे हैं। शिक्षित गृहणी सत्या निषाद ने कहा नाली की सफाई नहीं होने के साथ कचरा गाड़ी भी नहीं आ रही है।

50%

लोगों ने कहा- नहीं


टंकी की सफाई कराई जाएगी, सफाई कर्मियों को भेजा जाएगा, फेंसिंग की मरम्मत करने कहा है

वह काम जो रह गए अधूरे

अगला वार्ड: माहुरबंदपारा (04)

टंकी की सफाई तक नहीं

शिवनगर में 2016 से संपवेल में बना है जिसमे पूरे वार्ड में पानी सप्लाई होती है। 7 नवंबर 2016 को संपवेल बनकर तैयार हुआ जिसके बाद से अब तक में मात्र एक बार 2017 में ही संपवेल की सफाई की गई। मितानिन ने संपवेल के पानी की जांच कराई तो गंदगी पाई गई। मितानिन भारती ठाकुर ने कहा संपवेल की सफाई नियमित कराया जाना जरूरी है।

06

सफाईकर्मी

01

कचरा गाड़ी

03

कचरा गाड़ी


ये हैं चुनौतियां

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना