• Hindi News
  • Rajya
  • Chhattisgarh
  • Kanker
  • Kanker News chhattisgarh news drains on the side of the highway were completely gutted in 2 years so many pits on the road that it was difficult to walk

हाईवे के किनारे बनी नालियां 2 साल में पूरी तरह पट चुकीं, सड़क पर इतने गड्ढे कि चलना मुश्किल

Kanker News - शहर के नेशनल हाइवे के किनारे पानी निकासी के लिए बनाई गईं नालियां पूरी तरह पट चुकी हैं। नालियां पटने से बारिश के...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:07 AM IST
Kanker News - chhattisgarh news drains on the side of the highway were completely gutted in 2 years so many pits on the road that it was difficult to walk
शहर के नेशनल हाइवे के किनारे पानी निकासी के लिए बनाई गईं नालियां पूरी तरह पट चुकी हैं। नालियां पटने से बारिश के पानी की निकासी नहीं हो पाती। पानी सड़क पर ही जमा हो जाता है जिससे सड़क खराब हो रही है। शहर के लोगों ने ही जागरूकता के अभाव में अपने घर और दुकानों के सामने नालियां पाट दी हैं। पालिका और एनएचएआई नालियों को साफ कराने ध्यान नहीं दे रहा है।

नेशनल हाईवे सिंगारभाठ से माकड़ी तक सड़क पूरी तरह खराब हो चुका है। इसका सबसे बड़ा कारण बारिश का पानी सड़क पर जमा होना है। दो साल पहले 2017 में शहर के रेस्ट हाउस से लेकर सिंगारभाठ तक सड़क के किनारे नाली बनाई गई थी।

दो साल में ही हालत ये है कि नालियों का 90 प्रतिशत हिस्सा पट चुका है और यही हाल रहा तो आने वाले दो-तीन वर्षों बाद नालियों का अस्तित्व ही समाप्त हो जाएगा। ज्ञानी चौक के पास नाली पट चुकी है। यहां सड़क पर ही पानी जमा हो रहा है जिससे गड्ढे हो रहे हैं। सिंगारभाठ में भी कई जगह नाली पट जाने से सड़क पर ही बारिश का पानी जमा हो रहा है। लट्टीपारा में तो लोगों ने नालियों के ऊपर स्लैब बनवा दिया है। झुनियापारा में नाली झाड़ियों से पट चुकी है।

कांकेर। नेशनल हाईवे पर सिंगारभाठ से माकड़ी तक सड़क खराब हाेने से आवाजाही में हो रही परेशानी।

पुराना बस स्टैंड के पास हाईवे किनारे की नाली पटी

पुराना बस स्टैंड के पास नेशनल हाईवे के किनारे व्यापारियों ने अपनी दुकानों के सामने नालियों को पाट दिया है। थोड़ी बारिश होते ही सड़क पर पानी जमा हो जाता है। थाने से लेकर मस्जिद चौक तक हाईवे पर बड़े-बड़े गड्ढे हो चुके हैं। ऊपर-नीचे मार्ग पर भी बारिश के पानी की निकासी नहीं हो पाती। नीचे मार्ग पर तो गड्ढों की वजह से सड़क का 50 प्रतिशत भाग गायब हो चुका है। गोविंदपुर, नंदनमारा, माकड़ी में भी जगह-जगह सड़क खराब होने से गड्ढे हो गए हैं। माकड़ी में तो बारिश का पानी सड़क में ही जमा हो जाता है। भंडारीपारा के देवेश यादव, राकेश ठाकुर, माकड़ी के मेघसिंह यादव, मुकेश कुंजाम, सलमान, सिंगारभाठ के पप्पू चंद्राकर ने कहा निकासी नहीं होने से सड़क पर ही बारिश का पानी जमा होकर सड़क को खराब कर रहा है।

शहर को गांव से जोड़ने वाली सड़कें भी कंडम

भंडारीपारा से घोटिया मार्ग बारिश में खराब हो चुका है। सबसे ज्यादा खराब स्थिति भंडारीपारा में मारादेव तालाब के सामने सड़क की है। भंडारीपारा में कुछ जगह सड़क किनारे नाली बनी है जो देखरेख के अभाव में क्षतिग्रस्त होकर मिट्टी व झाड़ियों से पट चुकी है। भंडारीपारा की प्रेमबती यादव, श्यामा यादव, सुषमा मरई ने कहा कि खराब हो चुकी सड़क पर आए दिन लोग गिरते हैं और वाहन का पहिया धंस जाता है।

कांकेर। नेशनल हाईवे में बनी नाली पूरी तरह से पट चुकी है।

शीतलापारा-श्रीरामनगर मार्ग पर गड्ढे ही गड्ढे

शीतलापारा से श्रीरामनगर जाने के मार्ग पर भी बारिश के पानी निकासी की व्यवस्था नहीं है। यहां पाइपलाइन विस्तार के लिए सड़क खोद दी गई है। अन्नपूर्णापारा बाइपास मार्ग निर्माण के दौरान नाली निर्माण जरूर हुआ था जो पूरी तरह पट चुकी है। बाईपास रोड में भी गड्ढे होना शुरू हो गए हैं। कब्रिस्तान, मुक्तिधाम के पास सड़क ज्यादा खराब है। सिविल लाइन से पंडरीपानी मार्ग पर सड़क किनारे बारिश के पानी की उचित निकासी नहीं होने से कटाव हो रहा है।

Kanker News - chhattisgarh news drains on the side of the highway were completely gutted in 2 years so many pits on the road that it was difficult to walk
X
Kanker News - chhattisgarh news drains on the side of the highway were completely gutted in 2 years so many pits on the road that it was difficult to walk
Kanker News - chhattisgarh news drains on the side of the highway were completely gutted in 2 years so many pits on the road that it was difficult to walk
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना