10 बजे खुलता है खरीदी केंद्र लेकिन टोकन कटाने के लिए 7 बजे से लग रही कतार

Kanker News - राज्य सरकार द्वारा समर्थन मूल्य की खरीदी 15 दिन देरी से शुरू किए जाने से इसका खामियाजा किसानों को उठाना पड़ रहा है।...

Dec 04, 2019, 08:11 AM IST
Kanker News - chhattisgarh news purchasing center opens at 10 am but queues from 7 am to tokens
राज्य सरकार द्वारा समर्थन मूल्य की खरीदी 15 दिन देरी से शुरू किए जाने से इसका खामियाजा किसानों को उठाना पड़ रहा है। किसान जल्द से जल्द धान बेचने के लिए टोकन कटाने के लिए खरीदी केंद्र पहुंचे रहे हैं। इसके चलते तीन दिनों से केंद्रों में सैकड़ों की संख्या में किसानों की लाइन लग रही है। धान खरीदी केंद्र सुबह 10 बजे खुलता है, लेकिन इसके पहले ही टोकन लेने के लिए काउंटर पर किसानों की लाइन सुबह 7 बजे लग रही है। कांकेर खरीदी केंद्र में रोजाना बड़ी संख्या में किसान टोकन कटाने पहुंच रहे हैं। मंगलवार को भी 250 से अधिक किसान पहुंचे, लेकिन इसमें से सिर्फ 170 किसानों का ही टोकन कट पाया। बाकी किसानों को 4 दिसंबर को बुलाया गया है।

भंडारीपारा वार्ड के किसान भुनेश्वर पटेल, गणेश धनकर, मोहपुर के भुवन लाल वट्टी ने कहा कि सुबह 8 बजे से धान खरीदी के लिए टोकन कटाने के लिए पहुंचे हैं लेकिन दोपहर 12.30 बजे तक भी टोकन नहीं कट पाया है। काफी देर के बाद टोकन कट रहा है। इससे किसानों को काफी दिक्कत आ रही है। टोकन के लिए काउंटर बढ़ाए जाने चाहिए। नवागांव भावगीर के धर्मेंद्र पटेल, आतुरगांव के समारू साहू, ललित साहू ने कहा कि सुबह 9 बजे से धान खरीदी केंद्र में टोकन के लिए पहुंचे हैं, लेकिन अभी तक टोकन नहीं मिल पा रहा है।

एक दिन बाद मिला टोकन: ऐसे कई लोग तो ऐसे थे, जिन्होंने 2 दिसंबर को टोकन के लिए संबंधित दस्तावेज जमा किया था। उन्हें एक दिन बाद 3 दिसंबर को टोकन दिया गया।

देरी से खरीदी शुरू होने के कारण टोकन कटाने पहुंच रहे सैकड़ों किसान

कांकेर खरीदी केंद्र में सुबह से ही टोकन कटाने के लिए लगी किसानों की भीड़।

काउंटर बढ़ाया जाएगा: खाद्य अधिकारी

जिला खाद्य अधिकारी सीमा अग्रवाल ने कहा जिन खरीदी केंद्रों में टोकन को लेकर बहुत ज्यादा किसान पहुंच रहे हैं और दिक्कत हो रही है। वहां पर जानकारी लेकर काउंटर बढ़ाया जाएगा।

कांकेर धान खरीदी केंद्र में पानी की व्यवस्था नहीं

कांकेर धान खरीदी केंद्र अलनिया पारा में बनाया गया है। जहां धान खरीदी के लिए काफी बड़ी जगह है, लेकिन सुविधाओं का अभाव बना हुआ है। खरीदी केंद्र में पानी की भी व्यवस्था नहीं है। कोई हैंडपंप आसपास नहीं है। इससे किसानों को दिक्कत हो रही है। वहीं खरीदी केंद्र जाने के मार्ग पर कोई बोर्ड नहीं लगाया गया है। जिससे किसानों को जानकारी हो सके। भावगीर नवागांव के रामप्रसाद मंडावी और गढ़पिछवाड़ी के किशन निर्मलकर ने कहा खरीदी केंद्र में पानी की व्यवस्था रहनी चाहिए।

एक ही सॉफ्टवेयर होने से दिक्कत: प्रबंधक

कांकेर धान खरीदी केंद्र के प्रबंधक नरेंद्र साहू ने कहा इस बार धान खरीदी विलंब से शुरू हुई है। इस कारण सभी किसान एक साथ पहुंच रहे हैं। इससे टोकन के लिए इतने किसानों की भीड़ दिखाई पड़ रही है। एक ही सॉफ्टवेयर होने से टोकन काटने में विलंब हो रहा है।

X
Kanker News - chhattisgarh news purchasing center opens at 10 am but queues from 7 am to tokens
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना