मेरा जीना-मरना तो कांग्रेस में ही, मुझे निकालने वाले खुद दूसरी पार्टी से चुनाव लड़ चुके: कन्हैया अग्रवाल

Kawardha News - कांग्रेस से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिए जाने के बाद प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व सचिव व पूर्व जिलाध्यक्ष...

Dec 11, 2019, 08:22 AM IST
कांग्रेस से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिए जाने के बाद प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व सचिव व पूर्व जिलाध्यक्ष कन्हैया अग्रवाल ने जिलाध्यक्ष रामकृष्ण साहू पर जमकर जुबानी हमला बोला। वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ने दो टूक कहा कि उन्हें पार्टी से निष्कासित करने वाले कांग्रेस के प्रति अपनी निष्ठा साबित करें। उन्होंने कहा कि इसके बारे में बताने की जरूरत नहीं है कि मुझे निकालने वाले 5 साल पहले पंडरिया विधानसभा में कौन से छाप से चुनाव लड़े थे। अब यह पार्टी की व्यवस्था है कि वे अध्यक्ष बनकर आ गए हैं। एक सप्ताह पहले ही कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामकृष्ण साहू ने कांग्रेस नेता कन्हैया अग्रवाल को खुद से दुर्व्यवहार के आरोप में 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया था। इस मामले में कन्हैया अग्रवाल ने अब तक चुप्पी साध रखी थी। लेकिन अब उन्होंने कांग्रेस जिलाध्यक्ष पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि जिस दिन मैं पैदा हुआ, उस दिन से मैंने कांग्रेस की राजनीति शुरू कर दी थी। 15 साल की अवस्था में मैंने पिपरिया में नवयुग मंडल का गठन किया। मेरे काम को देखते हुए मुझे 20 वर्ष की अवस्था में ब्लॉक युवक कांग्रेस का अध्यक्ष मनोनीत किया। 22 वर्ष की अवस्था में जब निर्मलचंद जैन ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष बने, तो मुझे कोषाध्यक्ष बनाया गया।

मुझे किसी के प्रमाणपत्र की जरूरत नहीं, कांग्रेस का काम करता रहूंगा

उन्होंने जिलाध्यक्ष को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि जो मेरे पार्टी से निष्कासन की बात करते हैं, वे कहां से आए हैं। मैंने जन्म कांग्रेस में लिया है और मरूंगा भी कांग्रेस में। मैं जामुनपानी बाघिन हत्याकांड के समय आदिवासियों के हक के लिए जले गया। अनुसूचित जाति के हित के लिए लड़ाई के लिए 6 साल मुझ पर मुकदमा चला। मुझे किसी के प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं है। जो मेरे साथ किया गया है, मेरे लोग गुण-दोष के आधार पर फैसला लेंगे। मैं कहीं भी विचलित नहीं हूं। कांग्रेस में हूं और रहूंगा और कांग्रेस के लिए काम करूंगा।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना