मातर मड़ई: क्षेत्र के बैगा आदिवासियों ने पारंपरिक वेशभूषा में किया लोकनृत्य

Kawardha News - बोड़ला ब्लॉक के चिल्फीघाटी में 2 दिवसीय मातर मड़ई हुई। इसमें दो राज्य छत्तीसगढ़ व मध्यप्रदेश से सैकड़ों लोग मेले...

Feb 17, 2020, 06:46 AM IST
Bodla News - chhattisgarh news matar madai baiga tribals of the area performed folk dances in traditional costumes

बोड़ला ब्लॉक के चिल्फीघाटी में 2 दिवसीय मातर मड़ई हुई। इसमें दो राज्य छत्तीसगढ़ व मध्यप्रदेश से सैकड़ों लोग मेले में शामिल हुए। 13 फरवरी को रात में छत्तीसगढ़ी कार्यक्रम हुआ। क्षेत्र के बैगा आदिवासियों ने कार्यक्रम का आनंद उठाया।

वनांचल होने से चिल्फी का मातर मड़ई बैगा आदिवासियों के लिए प्रमुख व खास होता है। पारंपरिक वेशभूषा धारण कर क्षेत्र के बैगा आदिवासियों ने हाथों में डांग (मयूर पंख से सजी बांस) लिए मांदर की थाप पर लोकनृत्य की प्रस्तुति देते मेले का भ्रमण किया। जहां अपनी कुल देवी-देवताओं की पूजा अर्चना कर आशीर्वाद लिया।

मेले का आनंद लेने रूस से पहुंचे विदेशी: मातर मड़ई का आनंद लेने के लिए रूस से विदेशी पहुंचे थे। जहां बैगा आदिवासियों के नृत्य का आनंद उठाया। कुछ विदेशियों ने बैगा नृत्य को अपने कैमरे में कैद भी किया। चिल्फी का मातर मड़ई दो राज्यों की सीमा में होने से मेले में बड़ी संख्या में मध्यप्रदेश से लोग शामिल हुए। इस दौरान बच्चों ने झूलों का जमकर आनंद उठाया।

िचल्फीघाटी. दो दिवसीय मातर मड़ई में झूले का आनंद लेते बच्चे।

X
Bodla News - chhattisgarh news matar madai baiga tribals of the area performed folk dances in traditional costumes

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना