नाबालिग का अपहरण कर दुष्कर्म, मुख्य आरोपी को 10 साल की कैद, दो अन्य को चार-चार साल की सजा

Kawardha News - नाबालिग लड़की का अपहरण कर दुष्कर्म के मामले में दोषी पाए गए आरोपी को 10 साल कैद की सजा सुनाई गई है। वहीं आरोपी का साथ...

Jan 24, 2020, 07:10 AM IST
नाबालिग लड़की का अपहरण कर दुष्कर्म के मामले में दोषी पाए गए आरोपी को 10 साल कैद की सजा सुनाई गई है। वहीं आरोपी का साथ देने वाले दो अन्य सहयोगियों को 4- 4 की सजा हुई है। यह फैसला फास्ट ट्रैक कोर्ट ने बुधवार को सुनाया। मामला भोरमदेव थाना क्षेत्र का है।

न्यायालयीन सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक घटना 11 मई 2018 की है। आरोपी राकेश कुमार पिता बैसाखू प्रजापति (22) ग्राम ढेकोनाभाठा, थाना डबरा (जांजगीर चांपा) का रहने वाला है। आरोपी ने भोरमदेव थाना क्षेत्र की एक 16 साल की लड़की का न सिर्फ अपहरण बल्कि उसके साथ दुष्कर्म किया।

लड़की के अपहरण के दौरान आरोपी लल्लू पिता छोटेलाल प्रजापति (58) और मुन्नीबाई पति लल्लू प्रजापति (55) निवासी मवई जिला सिधी (मप्र) ने आरोपी राकेश को पनाह दिया था। वे बिलासपुर में लड़की को छिपाकर रखे थे। थाने में रिपोर्ट दर्ज कर तत्कालीन टीआई संजय यादव ने मामले को गंभीरता से लिया और 22 मई को बिलासपुर रेलवे स्टेशन से आरोपी को गिरफ्तार किया था।

मुख्य आरोपी की निशानदेही पर सह आरोपियों की हुई थी गिरफ्तारी: मुख्य आरोपी राकेश प्रजापति की निशानदेही पर सह आरोपी लल्लू प्रजापति व मुन्नीबाई की गिरफ्तारी हुई।

उसी के यहां लड़की को छिपाकर रखा गया था। लड़की को छुड़ाने के बाद पुलिस ने उसे परिजन से मिलाया। धारा 363, 366, 376, 109, 224, 34 और लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम- 2012 की धारा 3, 4 के तहत आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था।

फास्ट ट्रैक कोर्ट में चल रही थी मामले की सुनवाई

मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में चल रही थी। पुलिस ने विवेचना के बाद सभी साक्ष्य कोर्ट में पेश किया। सुनवाई के दौरान पेश सबूतों, साक्ष्यों और अधिवक्ता की दलीलों से आरोपियों का दोष सिद्ध होना पाया गया। इस पर कोर्ट ने मुख्य आरोपी राकेश को अलग-अलग धारा के तहत 10 साल कैद व 5 हजार रुपए जुर्माने से दण्डित किया है। वहीं दो अन्य आरोपियों को 4- 4 साल कैद की सजा सुनाई गई है।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना