6 एरिया के सात 7 अस्पतालों में आयुष्मान कार्ड से इलाज की मिलेगी सुविधा

Korba News - एसईसीएल के अस्पतालों में अब आयुष्मान योजना के तहत मरीजों का कैश लेस इलाज किया जाएगा। प्रबंधन ने इसके लिए तैयारी...

Nov 09, 2019, 07:35 AM IST
एसईसीएल के अस्पतालों में अब आयुष्मान योजना के तहत मरीजों का कैश लेस इलाज किया जाएगा।

प्रबंधन ने इसके लिए तैयारी शुरू कर दी है। प्रक्रिया पूरी होने के बाद यहां के मरीजों को एसईसीएल के विभागीय अस्पतालों में भी सुविधा मिल सकेगी। लोगों के लिए यह बड़ी राहत वाली बात होगी। एसईसीएल के 6 एरिया के चयनित 7 अस्पतालों में प्रक्रिया शुरू करने की कार्रवाई एसईसीएल प्रबंधन ने शुरू की है। इसके लिए मुख्यालय से अफसरों को निर्देश भी जारी कर दिए हैं। जिन विभागीय अस्पतालों में इस योजना के तहत सुविधा देने की तैयारी है, उसमें एसईसीएल बैकुंठपुर एरिया का चरचा रीजनल हास्पिटल, विश्रामपुर एरिया रीजनल हास्पिटल, चिरमिरी एरिया कुरसिया रीजनल हास्पिटल, जमुना और कोतमा एरिया की कोतमा रीजनल हास्पिटल, जोहिला एरिया की नौरौजाबाद स्थित रीजनल अस्पताल के साथ कोरबा एरिया के मेन हास्पिटल और बांकी हास्पिटल का नाम शामिल है। अब तक जिले के सरकारी और पंजीकृत निजी हास्पिटल में आयुष्मान भारत योजना के तहत इलाज कराने की सुविधा मिल रही है।

एसईसीएल कोरबा एरिया के मेन और बांकी हास्पिटल में आयुष्मान कार्ड से होगा इलाज, यह सुविधा देने वाली एसईसीएल जिले की पहली सार्वजनिक संस्था

एसईसीएल कोरबा एरिया अस्पताल

सिर्फ 29 पंजीकृत निजी संस्थानों में ही सुविधा

जिले में अभी सरकारी अस्पतालों के साथ ही करीब 29 निजी अस्पतालों में आयुष्मान योजना के तहत इलाज की सुविधा दी जा रही है। इसमें 11 डेंटल हास्पिटल हैं। वहीं बालको के विभागीय अस्पताल में भी आयुष्मान से इलाज कराने की सुविधा मुहैय्या कराई जा रही है। जिले में इस योजना में 2 लाख से अधिक गरीब परिवार शामिल हैं, जिन्हें 5 लाख रुपए तक के मुफ्त इलाज की सुविधा आयुष्मान कार्ड से उपलब्ध कराने का प्रावधान है। एसईसीएल के अस्पतालों में इस योजना से करीब 10 हजार परिवारों को राहत मिलेगी। क्योंकि अब तक पश्चिम क्षेत्र के लोगों को आयुष्मान कार्ड से इलाज कराने शहर आना पड़ता था, जिन्हें अब बांकीमोंगरा में ही मुफ्त इलाज सुविधा मिलने लगी।

एसईसीएल के गेवरा अस्पताल में सुविधा बेहतर

गंभीर मामलों में सरकारी अस्पतालों से मरीजों को निजी अस्पतालों के चक्कर लगाने पड़ते हैं। हालांकि निजी अस्पतालों में आयुष्मान से इलाज शुरू होने से कुछ राहत जरूर मिली है, लेकिन अब एसईसीएल के कोरबा और बांकी अस्पताल में भी सुविधा की पहल की गई है। एनसीएच गेवरा अस्पताल में अन्य अस्पतालों में सुविधा अधिक बेहतर है।

एचटीपीपी के लिए भी चल रही है चर्चा

जिले में बिजली कंपनी के दो विभागीय अस्पताल हैं। जो कोरबा पूर्व के अलावा पश्चिम एचटीपीपी में हैं। एसईसीएल के विभागीय अस्पताल में आयुष्मान से इलाज सुविधा शुरू होने के बाद बिजली कंपनी के एचटीपीपी में इसकी सुविधा शुरू हो सकती है। बताया जा रहा है इसके लिए चर्चा जारी है।

एसईसीएल ने सुविधा देने शुरू की है पहल: राठौर

आयुष्मान योजना के डिस्ट्रिक्ट कन्सलेंट आॅफिसर शिव राठौर ने बताया कि सरकारी और पंजीकृत निजी अस्पतालों में कार्ड से इलाज की सुविधा मिल रही है। अब सार्वजनिक औद्योगिक संस्थानों ने इसके लिए पहल की है। एसईसीएल के कुछ अस्पतालों में इसके लिए प्रक्रिया चल रही है। एचटीपीपी में भी सेवा जल्द शुरू करने चर्चा चल रही है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना