कोयला मंत्रालय के संयुक्त सचिव के साथ ट्रेड यूनियन पदाधिकारियों की बैठक कल

Korba News - बैठक की कार्यसूची में 24 सितंबर की हड़ताल का मुद्दा किया शामिल भास्कर संवाददाता|कोरबा कोयला मंत्रालय के...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:13 AM IST
Korba News - chhattisgarh news trade union officials meeting with joint secretary ministry of coal tomorrow
बैठक की कार्यसूची में 24 सितंबर की हड़ताल का मुद्दा किया शामिल

भास्कर संवाददाता|कोरबा

कोयला मंत्रालय के संयुक्त सचिव आशीष उपाध्याय की अध्यक्षता में 15 सितंबर की की शाम 4 बजे कोल इंडिया कार्यालय नई दिल्ली में केंद्रीय ट्रेड यूनियन (संयुक्त मोर्चा) के पदाधिकारियों के साथ बैठक रखी गई है।

इस बैठक की सूचना संयुक्त मोर्चा के पदाधिकारी एटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष रमेन्द्र कुमार, एचएमएस के अध्यक्ष नाथूलाल पांडे ,सीटू के वरिष्ठ नेता डीडी रामानंदन को भी भेज दी गई है। बैठक की कार्यसूची में प्रमुख रूप संयुक्त मोर्चा की ओर से प्रस्तावित 24 सितंबर की हड़ताल के मुद्दे को शामिल किया गया है। इसके अलावा 23 जून को हुई बैठक की कार्रवाई पर चर्चा, कोल इंडिया की सभी सहायक कंपनियों कोयला खदानों में काम करने वाले कर्मचारियों के कल्याण के लिए यूनियनों की ओर से सुझाव लिया जाएगा, बैठक की कार्यसूची में कोयला उत्पादन बढ़ोतरी के संबंध में यूनियन पदाधिकारियों से सुझाव लेने की बात को शामिल किया गया है। हड़ताल के एलान के बाद से कोल इंडिया प्रबंधन सतर्क हो गई है। इस लिहाज से यूनियनों के प्रस्तावित आंदोलन को प्रबंधन व कोयला मंत्रालय टालने की कोशिश में जुट गई है। 15 सितंबर की बैठक में बीएमएस शामिल नहीं रहेगी। बताया जा रहा है कि बीएमएस के साथ अलग बैठक होगी। कोयला उद्योग में शत-प्रतिशत प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के खिलाफ कर्मचारियों में नाराजगी है।इसे लेकर कोयला उद्योग में सक्रिय ट्रेड यूनियन के संयुक्त मोर्चा ने 24 सितंबर को एक दिवसीय काम बंद हड़ताल का ऐलान किया है। वहीं भारतीय मजदूर संघ से संबद्ध अखिल भारतीय कोयला खदान मजदूर संघ ने 23 से 27 सितंबर तक काम बंद हड़ताल करने का फैसला किया है।

यूनियन ने की बोनस पर जल्द फैसले की मांग

एक तरफ यूनियनों ने कोयला उद्योग में शत-प्रतिशत अध्यक्ष विदेशी निवेश के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। वहीं दूसरी ओर इस साल के बोनस को लेकर भी कर्मचारियों में उत्सुकता है। ट्रेड यूनियन ने पिछले वर्ष के मुकाबले इस बार 80000 रुपए तक बोनस की मांग रखी है। बोनस के लिए बैठक की तिथि घोषित नहीं की गई है। यूनियनों को इसके लिए बुलावा नहीं भेजा गया है। लेकिन माना जा रहा है कि प्रबंधन की आगामी बैठक में इस पर कोई निर्णय लिया जा सकता है।

X
Korba News - chhattisgarh news trade union officials meeting with joint secretary ministry of coal tomorrow
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना