संयुक्त यूनियन बोले- 24 सितंबर की हड़ताल होकर रहेगी कामयाब

Korba News - कोयला क्षेत्र में 100 प्रतिशत विदेशी पूंजी निवेश (एफडीआई) और निजीकरण की अनुशंसा के खिलाफ 24 सितंबर को कोयला उद्योग मे...

Sep 20, 2019, 07:25 AM IST
कोयला क्षेत्र में 100 प्रतिशत विदेशी पूंजी निवेश (एफडीआई) और निजीकरण की अनुशंसा के खिलाफ 24 सितंबर को कोयला उद्योग मे एक दिवसीय हड़ताल को सफल बनोन गुरुवार को एटक कार्यालय में संयुक्त ट्रेड यूनियन के पदाधिकारियों की बैठक हुई। एटक के दीपेश मिश्रा, एचएमएस के ए विश्वास, सीटू के जनक दास व इंटक के तरुण गोस्वामी की अगुवाई में बैठक हुई। श्रम संगठनों ने सरकार के फैसले की खिलाफत करते हुए कोयला उद्योग में एक दिवसीय हड़ताल का ऐलान किया है, जिसे कोरबा जिले मे पूरी तरह कामयाब किया जाएगा। एटक नेता दीपेश मिश्रा ने कहा कि सरकार ने कोयला क्षेत्र मे 100 फीसदी प्रत्यक्ष विदेशी निवेश और कोयले के वाणिज्यिक खनन को मंजूरी देने का फैसला लिया है। इससे कोल इंडिया पूरी तरह तबाह हो जाएगा, मजदूर सड़कों पर आ जाएंगे। उन्होंने कहा कि कोल इंडिया में उत्पादन लागत औसतन 1300 रुपए प्रति टन है। ईंधन आपूर्ति करार के आधार पर उसे प्रति टन कोयले की कीमत करीब 1370 रुपए प्रति टन मिलती है। कामरेड ए विश्वास ने कहा कि यह सरकार पूरी तरह मजदूर विरोधी है। बैठक में कामरेड एनके दास, राजू श्रीवास्तव, राजेश पांडे, मृत्युंजय कुमार, सुभाष सिंह, फजल खान, एनके साव, भैरव प्रसाद, सुनील शर्मा, अजय सिंह, अनूप सरकार, दिनेश साहू, डीपी सिंह व अन्य उपस्थित रहे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना